कानपुर में डेंगू का कहर, एक दिन में 16 मरीज मिलने से हड़कंप, घरों में ताला लगाकर भागे लोग

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

फिरोजाबाद के बाद कानपूर में डेंगू का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. अब तक 40 डेंगू मरीज सामने आ चुके हैं. अकेले कुरसौली गांव में 6 सितंबर को एक साथ 16 डेंगू मरीज निकलने से हड़कंप मच गया है. डेंगू के डर से ग्रामीण अपने घरों में ताला लगाकर कहीं और चले गए हैं. गांव में अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है. 30 से ज्यादा लोग बुखार और डेंगू के कारण अस्पतालों में भर्ती हैं. 6 सितंबर को गांव में बुखार से एक महिला की मौत हो गई.

कुरसौली गांव में एक साथ 16 डेंगू मरीज की रिपोर्ट आई आने के बाद सीएमओ, डीएम के साथ जिले के नोडल अधिकारी अनिल गर्ग भी 6 सितंबर को गांव के दौरे पर आए. उन्होंने गांव में मेडिकल कैंप लगाकर दवाएं बटवाना शुरू किया.

वहीं, मरीजों और मौतों की संख्या को लेकर प्रशासन पर्दा डालने में लग गया है. गांव के दौरे के बाद नोडल अधिकारी ने डीएम से पूछकर गांव में 16 मरीजों की बात तो मीडिया में कबूल कर ली, लेकिन जब गांव में मौतों का सवाल पूछ गया तो बगल में बैठे डीएम अलोक तिवारी पर जिम्मेदारी डालकर चले गए.

कुरसौली गांव की तरह कानपुर के कई इलाकों में बुखार और डेंगू से मौतें हो रही हैं. इसके कारण शहर के सारे हॉस्पिटल बुखार और डेंगू मरीजों से भर गए हैं. अभी तक जिला प्रशासन ने शहर में डेंगू से मौतों का कोई आंकड़ा जारी नहीं किया है.

(रिपोर्ट: रंजय सिंह / यूपी तक)

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT