window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

पीलीभीत के अटकोना गांव में अचानक आया बाघ, ट्यूरिस्ट जंगल सफारी छोड़ यहां पहुंचे

सौरभ पांडेय

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Tiger in Pilibhit: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले से एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है. आपको बता दें कि जिले की कलीनगर तहसील के एक घर में सोमवार और मंगलवार की दरम्यानी रात एक बाघ घुस आया. खबर के अनुसार, देर रात करीब 2 बजे बाघ गांव में घुसा और वह दो घरों के बीच घूमता रहा. ताजा मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार को मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद बाघ को रेस्क्यू कर लिया है. फिलहाल, बाघ द्वारा किसी को नुकसान पहुंचाने की खबर नहीं है.

क्या है मामला?

आपको बता दें कि यह घटना पीलीभीत के कलीनगर तहसील क्षेत्र के अटकोना गांव की है. यहां सोमवार और मंगलवार की दरम्यानी रात को करीब दो बजे एक बाघ को देखा गया, जिसके बाद लोग सतर्क हो गए. फिर वन विभाग की टीम को सूचित कर दिया गया. बाघ को देखने के लिए आसपास के गांव वालों की भीड़ जमा हो गई. एक तरफ डर भी कि कहीं बाघ हमला ना कर दे और दूसरी तरफ हैरानी इस बात की कि जिसे जंगल में सोचा था वो सीधा लाइव दिख रहा था. मौके पर मौजूद कई लोगों ने फोन से वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर किए, जो अब वायरल हो रहे हैं.

ट्यूरिस्ट पहुंचे बाघ को देखने

जंगल सफारी करने आए लोगों को बाघ जंगल में नहीं दिखा, तो वह उसे देखने के लिए अटकोना गांव पहुंच गए. जब तक बाघ पकड़ा नहीं गया तब तक दीवार के चारों तरफ बाड़ेबंदी कर दी गई थी, ताकि वह किसी पर हमला ना कर दे. फिलहाल फाइनल अपडेट यह है कि वन विभाग की टीम ने बाघ को अपने कब्जे में ले लिया है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT