यूपी: विवाद सुलझाने के लिए चल रही थी पंचायत, अचानक रिटायर्ड फौजी ने की फायरिंग, दो की मौत

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

इटावा में रिटायर्ड फौजी ने अपनी लाइसेंसी राइफल से पंचायत के दौरान फायरिंग कर दी. जिसमें दो लोगों की मौत हो गई. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से एक युवक का शव बरामद किया है. वहीं, दूसरे युवक की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई. फॉरेंसिक टीम जांच में जुट गई है. पुलिस ने रिटायर्ड फौजी, उनके बेटे और उनकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है.

इटावा के जसवंतनगर तहसील के अंतर्गत कस्बा में कचौरा रोड पर मोहल्ला जानकीपुरम में रहने वाले रिटायर्ड फौजी सर्वेश यादव ने अपने बेटे की शादी 26 जून, 2020 को मैनपुरी जनपद के करहल की नेहा से की थी. उनके बेटे-बहू का शादी के समय से विवाद चल रहा था. उस विवाद को सुलझाने के लिए बहू (नेहा) पक्ष के मामा और बहू के बहन के ससुर फौजी सर्वेश यादव के घर पहुंचे थे. वहां पंचायत चल ही रही थी, लेकिन मामला बिगड़ने पर नाराज रिटायर्ड फौजी सर्वेश यादव ने अपनी लाइसेंसी राइफल से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें बहू के मामा और बहन के ससुर की मौत हो गई.

आरोपित रिटायर्ड फौजी सर्वेश कुमार की नातिन (बेटी की बेटी) शिवानी ने बताया कि कुछ दिन पहले मामी नेहा और मामा बाजार गए थे. उसके बाद वह अपनी ससुराल गए, जहां पर मामी ने अपने घर के सदस्यों से मामा को पिटवाया था. जब मामा लौट के आए तो उन्होंने अपने पिता (नाना) को सारी घटना बताई, जिसके बाद से सभी लोग नाराज थे. आज नेहा मामी के घर के कुछ सदस्य यहां आए थे और नाना को बुरा भला कह रहे थे. उसके बाद नाना ने गुस्से में गोली चला दी.

वहीं, इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार सिंह का कहना है कि जसवंतनगर के कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला जानकीपुरम में दो परिवारों में रिश्तेदारों कि आपसी पंचायत हुई थी. पंचायत में रिटायर्ड फौजी सर्वेश यादव ने अपने बेटे के ससुरालियों के ऊपर गोली चला दी, जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई है. जिसमें बहू (नेहा) के मामा कैलाश चंद्र यादव (50) और बहन के ससुर रामशंकर यादव (62) की गोली लगने से मृत्यु हो गई है. पुलिस ने आरोपितों में रिटायर्ड फौजी, उनकी पत्नी और उनके बेटे को गिरफ्तार कर लिया है. मामले में जांच की जा रही है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

( रिपोर्ट- अमित तिवारी)

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT