रिश्वतखोरी पर एक्शन, बिजली विभाग के 2 बड़े अफसर नपे, ऊर्जा मंत्री के निर्देश पर सस्पेंड

रिश्वतखोरी पर एक्शन, बिजली विभाग के 2 बड़े अफसर नपे, ऊर्जा मंत्री के निर्देश पर सस्पेंड
तस्वीर: एके शर्मा के ट्विटर हैंडल से.

यूपी में बिजली विभाग के दो अफसर रिश्वतखोरी के आरोपों में नप गए हैं. ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने घूस लेने के आरोप सामने आने के बाद अफसरों पर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया. इसके बाद एमडी मध्यांचल ने दोनों अफसरों को सस्पेंड कर दिया है. इस कार्रवाई में अवर अभियंता बौरामऊ बीकेटी ओम प्रकाश और अधिशासी अभियंता, गोमती नगर, विजय शंकर जौहरी को निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया गया है.

अहम बिंदु

आपको बता दें कि पिछले दिनों विजय शंकर जौहरी की एक ऑडियो क्लिप वायरल हुई थी. इस ऑडियो क्लिप में जौहरी एक ठेकेदार से कथित तौर पर रिश्वत की मांग करते हुए सुने गए. इसके बाद मामले की जांच के लिए समिति बनाई गई.

हालांकि अधिकारी ने अपने ऊपर लगे आरोपों को फैब्रिकेटेड बताया था. इसके बाद अधिकारी का वायस सैंपल लेकर फॉरेंसिक लैब में इसका मिलान वायरल ऑडियो की आवाज से किया गया. फॉरेंसिक लैब में दोनों आवाज एक ही शख्स के होने की पुष्टि हुई. इसके बाद आरोपी अधिकारी के निलंबन का फैसला लिया गया.

इसी तरह अवर अभियंता, बौरामऊ ओम प्रकाश के ऊपर आरोप लगे थे कि उन्होंने उपभोक्ता चेकिंग के दौरान रिश्वत की मांग की. इस संबंध में ही विभाग को वीडियो और ऑडियो फॉर्मेट में सबूत उपलब्ध कराए गए थे. विभाग की तरफ से आरोपी अधिकार से स्पष्टीकरण की मांग की गई लेकिन वह 29 मई तक अपना इसे पेश नहीं कर सके.

अधिकारी की तरफ से पक्ष प्रस्तुत नहीं किए जाने की वजह से उन्हें प्रथम दृष्ट्या दोषी पाया गया. इसके बाद आरोपी अधिकारी को सस्पेंड कर दिया गया.

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in