अखिलेश यादव ने सपा के इन कार्यकर्ताओं को दे दिए एक-एक लाख रुपये, आखिर क्यों भेजे गए पैसे?

विधानसभा चुनाव के दौरान मतगणना के पहले ट्रेनिंग को जा रही ईवीएम मशीनों की हेराफेरी और फेरबदल का आरोप लगाकर हंगामा करने वाले सपाइयों के लिए अब समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) हमदर्द बनकर सामने आए हैं. अखिलेश यादव ने इस पूरे मामले में जेल में बंद हुए आरोपी सपाइयों की मदद के लिए एक-एक लाख रुपये की राशि भेजी है. यह आर्थिक मदद केस से संबंधित न्यायिक सहयोग के लिए भेजी गई है.

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर हुए अंतिम चरण के मतदान के बाद 8 मार्च के दिन पहड़िया स्थित स्ट्रांग रूम से प्रशिक्षण के लिए जब ईवीएम की मशीनें निकलकर शहर के यूपी कॉलेज जा रही थी, तब उसी वक्त सपा कार्यकर्ताओं ने प्रशिक्षण वाली ईवीएम मशीन लदी गाड़ियों पर चढ़कर जमकर हंगामा काटा था.

इस दौरान पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों से समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं की जमकर नोकझोंक भी हुई थी. इसी मामले में पुलिस ने आगे कार्रवाई करते हुए दर्जनों सपा कार्यकर्ताओं पर मुकदमा करके जेल भेज दिया था. कुछ महीनों पहले ही अपने वाराणसी दौरे के दौरान अखिलेश यादव जिला जेल पहुंच कर आरोपी सपा कार्यकर्ताओं से ना केवल मुलाकात की थी, बल्कि हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया था.

इसी कड़ी में सोमवार को वाराणसी शहर दक्षिणी सीट से सपा प्रत्याशी रहे किशन दीक्षित की तरफ से प्रेस वार्ता करके यह जानकारी दी गई. उन्होंने बताया कि इस पूरे मामले में पीड़ित सपा कार्यकर्ताओं की मदद के लिए अखिलेश यादव ने अपने किए वादे के अनुसार एक-एक लाख रुपये की आर्थिक मदद भेजी है.

किशन दीक्षित ने मीडिया के लोगों को बताया कि कमल की फुल वाली सरकार की राजनीति ने द्वेषपूर्ण भावना से ग्रसित होकर सपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी मुकदमे लगाकर जेल में भेजने का कार्य किया है. कुछ महीने पहले सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने जिला कारागार में सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की थी.

इस पूरे मामले को खबर की शुरुआत में टॉप में शेयर किए गए Varanasi Tak के वीडियो पर क्लिक कर देखें.

एसपी चीफ अखिलेश यादव (फाइल फोटो).
अखिलेश यादव पहुंचे वाराणसी, जेल में बंद सपा कार्यकर्ताओं से मिलकर कही ये बात

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in