window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

बाराबंकी में जहां पहुंचे ऊर्जा मंत्री, वहां नहीं थी बिजली, टॉर्च की रोशनी में लिया जायजा

सैयद रेहान मुस्तफा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Barabanki News: उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के ऊर्जा मंत्री अरविंद कुमार शर्मा विद्युत समाधान सप्ताह के दूसरे दिन यानी मंगलवार को बाराबंकी जिले के बड़ेल उपकेंद्र पर व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे थे. इस दौरान शर्मा ने वहां मौजूद विद्युत अधिकारियों से रजिस्टर तलब किया.

मगर यहां चर्चा यह नहीं है कि मंत्री शर्मा ने व्यवस्थाओं का औचक निरीक्षण किया, बल्कि चर्चा इस बात की है कि ऊर्जा मंत्री जहां बैठे थे, वहां बिजली की ही व्यवस्था नहीं थी. आपको बता दें कि मंत्री शर्मा ने मोबाइल टॉर्च की रौशनी में रजिस्टर देखा और अधिकारियों से जवाब तलब किया. अब ऊर्जा मंत्री द्वारा टॉर्च की रोशनी में निरीक्षण करने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

मिली जानकारी के अनुसार, ऊर्जा मंत्री अरविंद कुमार शर्मा मंगलवार की शाम 8 बजे बड़ेल बिजली उपकेंद्र पहुुंचे थे. शर्मा ने वहां मौजूद एसडीओ और जेई से पूछा कि ‘आज उपभोक्ताओं की कितनी शिकायतें आईं और कितनों का निस्तारण हुआ?’ इसी बीच उन्होंने शिकायत कर्ताओं का रजिस्टर लिया और उसमें दर्ज नाम रामसनेही को फोन लगा दिया.

अरविंद शर्मा ने शिकायतकर्ता रामसनेही से कहा, ‘मैं ऊर्जा मंत्री बोल रहा हूं. आपकी शिकायत हल हुई…?’ उधर से जवाब मिला, ‘मंत्री जी हमारा मीटर बदल गया है.’ यही हाल उपभोक्ता कामता प्रसाद का था. उन्होंने बताया कि दोपहर में शिकायत की और दो घंटे बाद ही उनका मीटर बदल गया.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

मंत्री शर्मा इसके बाद जेपीनगर बिजली उपकेंद्र पहुंचे. वहां पर उन्होंने समाधान सप्ताह में आ रही शिकायतों और उनके निस्तारण के सच को परखा. मंत्री के औचक दौरे से पावर कॉर्पोरेशन में हड़कंप मचा हुआ था.

बाराबंकी: बिजली चोरी पकड़ने गई टीम को ग्रामीणों ने घेरा, जान फंसी तो पुलिस ने आकर बचाया

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT