window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

अखिलेश का गोरखपुर के डॉ. कफील पर बड़ा दांव, एमएलसी चुनाव के लिए बनाया SP उम्मीदवार

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव 2022 के लिए समाजवादी पार्टी (एसपी) ने गोरखपुर के चर्चित डॉक्टर कफील खान को अपना प्रत्याशी बनाया है. बता दें कि गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल कांड से चर्चा में आए डॉ. कफील खान को देवरिया-कुशीनगर विधान परिषद क्षेत्र से एसपी उम्मीदवार घोषित किया गया है. वहीं, एमएलसी चुनाव के लिए ही प्रयागराज-कौशांबी सीट से एसपी ने वासुदेव यादव को प्रत्याशी बनाया है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 36 सीटों के लिए 35 स्थानीय निकायों में नौ अप्रैल को मतदान होगा और इसके बाद 12 अप्रैल को मतगणना होगी.

आपको बता दें कि डॉ. कफील खान ने बुधवार, 15 मार्च को एसपी चीफ अखिलेश यादव से मुलाकात की थी, जिसकी तस्वीर उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी शेयर की. इस दौरान डॉ. कफील ने एसपी चीफ को अपनी द गोरखपुर हॉस्पिटल ट्रेजिडी किताब की एक कॉपी भी भेंट की.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने पिछले साल नवंबर महीने में गोरखपुर के बाबा राघव दास (बीआरडी) मेडिकल कॉलेज के बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. कफील खान की सेवाएं समाप्त कर दी थीं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

दरअसल अगस्त, 2017 में बीआरडी अस्पताल में कथित तौर पर ऑक्सीजन की कमी के कारण 63 बच्चों की मौत हो गई थी. डॉक्टर कफील खान को चिकित्सकीय लापरवाही के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उनके खिलाफ चिकित्सकीय लापरवाही का कोई सबूत नहीं मिलने के बाद अदालत ने अप्रैल 2018 में उन्हें जमानत दे दी थी.

आपको बता दें कि पिछले साल नवंबर में डॉ. कफील खान ने वीडियो जारी कर आरोप लगाया था कि बच्चों की मौत इसलिए हुई, क्योंकि राज्य सरकार ‘ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ता के बकाया का भुगतान करने में विफल रही’ थी.

अखिलेश के साथी केशव बोले- ‘स्वामी प्रसाद मौर्य के आने से पहले सब ठीक था, उसके बाद…’

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT