प्रयागराज: अस्पताल में इलाज कराने आया गैंगरेप का आरोपी, पुलिस को चकमा दे यूं हुआ फरार

प्रयागराज: अस्पताल में इलाज कराने आया गैंगरेप का आरोपी, पुलिस को चकमा दे यूं हुआ फरार
फोटो: पंकज श्रीवास्तव

संगम नगरी प्रयागराज में गैंगरेप के मामले में नैनी जेल में बंद एक आरोपी रविवार सुबह अस्पताल से ईलाज के दौरान पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. आरोपी के फरार होने की खबर मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. वहीं, अस्पताल से आरोपी के भागने पर जेल वॉर्डर अर्जुन सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है.

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि आरोपी दीपक पाल नैनी इलाके का रहने वाला था और 6 मार्च को गैंगरेप के आरोप में सिविल लाइंस थाने की पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. आरोपी दीपक पाल के मुंह से खून निकलने की शिकायत पर उसे स्वरूप रानी अस्पताल में 18 मई को भर्ती कराया गया था, जहां उसका इलाज चल रहा था.

आरोपी ऐसे भागा अस्पताल से-

मिली जानकारी के अनुसार, 22 मई की सुबह आरोपी पैर में दर्द की शिकायत से परेशान होने की बात कहकर टहलने लगा और टहलते-टहलते अस्पताल से फरार हो गया. जब पुलिस को इसकी सूचना मिली तो महकमे में हड़कंप मच गया. वहीं, जेल अधीक्षक पीएन पांडये ने लापरवाही के आरोप में जेल वॉर्डर अर्जुन सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है. कोतवाली के थाना अध्यक्ष के मुताबिक जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

प्रयागराज: अस्पताल में इलाज कराने आया गैंगरेप का आरोपी, पुलिस को चकमा दे यूं हुआ फरार
प्रयागराज: गर्लफ्रेंड के शौक ऐसे कि पूरा करने के लिए बनना पड़ा चोर, जानिए पूरा मामला

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in