window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

‘ससुराल सिमर का’ फेम दीपिका कक्कड़ की नंद की हमीरपुर में हुई शादी, कई बड़े कलाकार हुए शामिल

नाहिद अंसारी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Hamirpur News: यूपी के हमीरपुर जिले में छोटे परदे के बड़े कलाकारों की मौजूदगी में एक शादी बड़ी धूम-धाम से संपन्न हुई है. इस शादी में मशहूर टीवी सीरियल ‘ससुराल सिमर का’ से चर्चा में आए शोएब इब्राहीम और दीपिका कक्कड़ के साथ छोटे परदे के कई बड़े कलाकार शामिल हुए. बता दें कि ‘ससुराल सिमर का’ सीरियल में काम कर चुके शोएब इब्राहीम और दीपिका कक्कड़ पति-पत्नी हैं. शोएब की छोटी बहन और दीपिका कक्कड़ की नंद सबा इब्राहीम की यहां शादी हुई है.

आपको बता दें कि यह शादी हमीरपुर जिले के मौदहा कस्बे में हुई है. इस शादी के इंतजाम के लिए मुंबई की कई टीमें लगी हुई थीं और एक छोटे से मैरिज हॉल को ‘भव्य महल’ की तरह सजाया गया था. शादी से पहले के हल्दी और मेहंदी के कार्यक्रम भी यहीं हुए थे. यह शादी लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी हुई है और कई लोग इस शादी के इंतजाम को देखने के लिए उमड़े थे.

सनद रहे, शोएब हमीरपुर के मौदहा कस्बे के रहने वाले हैं. कई साल पहले शोएब ने भी मौदहा पहुंच कर दीपिका कक्कड़ से शादी की थी. तब भी यह शादी लोगों के बीच चर्चा का विषय बनी थी. अब शोएब की बहन सबा इब्राहीम की भी मौदहा में ही शादी हुई है.

बीती रात वर पक्ष जब मेहंदी कार्यक्रम के लिए पहुंचा तब भी भव्य आयोजन किया गया था. वर पक्ष के सैकड़ों युवा डीजे की धुन पर थिरकते दिखाई दे रहे थे. शादी भव्य तरीके से हो इसके लिए ‘पैसा पानी की तरह खर्च किया गया.’

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

वर पक्ष (खालिद नियाज) की तरफ से भी बारात को भव्य बनाने के इंतजाम किए गए और 7 नवम्बर को होने वाले वलीमे के कार्यक्रम में हजारों की तादात में लोगों के शामिल होने की बात कही जा रही है. इस शादी की लोग इसलिए भी बड़ी तारीफ कर रहे हैं क्योंकि मौदहा कस्बे से निकल कर शोएब इब्राहीम छोटे परदे का बड़ा नाम तो जरूर बन गए, पर वह अपने जन्म स्थल को भूले नहीं हैं.

हमीरपुर: अस्पताल देखता रहा, नहीं मिली एंबुलेंस, महिला ने ई-रिक्शा में दिया बच्चे को जन्म

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT