राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग में पढ़ाई छोड़ शामिल हुए स्कूलों के बच्चे, जानें पूरा मामला

राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग में पढ़ाई छोड़ शामिल हुए स्कूलों के बच्चे, जानें पूरा मामला
फोटो: यूपी तक

Shahjahanpur News: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां रेप और हत्या जैसे अपराध में दोषी डेरा सच्चा सौदा के बाबा राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग में स्कूली बच्चों को शामिल करवाया गया. इसकी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. मामला सामने आने के बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है.

अहम बिंदु

इस मामले के सामने आने के बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. शिक्षा विभाग के अधिकारियों की तरफ से इस मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के करने की बात कही जा रही है.

स्कूलों बच्चों को ले गए सत्संग में

दरअसल यह पूरा मामला बीते बुधवार का है. मिली जानकारी के अनुसार स्टेट हाईवे के पास विष्णु वाटिका मैरिज हॉल में डेरा सच्चा सौदा के बाबा राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग का आयोजन होना था. हैरानी की बात यह है कि स्कूली बच्चों को भी इस सत्संग में ले जाया गया. सवाल उठता है कि बच्चों को सत्संग में आखिर क्यों ले जाया गया और बच्चों को किसके कहने पर ले जाया गया.

सत्संग के दौरान वीएचपी ने किया हंगामा

डेरा सच्चा सौदा के बाबा राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग के दौरान विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता आ गए. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने वहां जमकर हंगामा काटा. कार्यकर्ताओं द्वारा पोस्टर और बैनर भी फाड़ डाले गए.

आपको बता दें कि स्कूली बच्चों के डेरा सत्संग में शामिल होने की वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है और मामले ने तूल पकड़ लिया है. अब मामले की जांच की बात कही जा रही है.

इस पूरे मामले पर बेसिक शिक्षा अधिकारी सुरेंद्र रावत ने कहा है कि, इस मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. इस सत्संग में हमारे स्कूलों के बच्चे नहीं थे बल्कि प्राइवेट स्कूलों के बच्चे थे. दूसरी तरफ खंड शिक्षा अधिकारी सपना रावत का कहना है कि, इस मामले में जांच कराई जा रही है. जांच के बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा.

राम रहीम के ऑनलाइन सत्संग में पढ़ाई छोड़ शामिल हुए स्कूलों के बच्चे, जानें पूरा मामला
शाहजहांपुर: विवाहेतर संबंध के शक में पत्नी को ऑटोरिक्शा से नीचे उतारकर पति ने फेंका तेजाब

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in