युवती का जननांग ही नहीं था और तय हो गई शादी फिर KGMU के डॉक्टरों ने दिखाया 'चमत्कार'

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी
किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी@kgmulucknow/ ट्विटर

Lucknow News: लखनऊ (Lucknow) के केजीएमयू (King George's Medical University) से मेडिकल विज्ञान का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां डॉक्टरों ने एक युवती की आंत को काटकर जननांग बना दिया. डॉक्टरों की मेहनत से महिला की जिंदगी में खुशियां आ गई है और उसका परिवार भी युवती के भविष्य की चिंता से मुक्त हो गया है.

मिली जानकारी के अनुसार युवती की 6 महीने बाद शादी थी. शादी को लेकर युवती के परिजनों में डर था कि वह अपने पत्नी के साथ रह पाएगी या नहीं. ये चिंता युवती और उसके परिवार को लगातार खाए जा रही थी, लेकिन लखनऊ के केजीएमयू के डॉक्टरों ने युवती को नई जिंदगी देने का काम कर दिया है.

महिला का नहीं था जननांग

जानकारी के अनुसार 20 साल की युवती हरदोई की रहने वाली है. युवती का जननांग ही नहीं था लेकिन उसकी शादी तय हो गई थी. शादी तय होने के बाद युवती और उसके परिवार को चिंता होने लगी कि पति युवती को साथ रखेगा या नहीं.

युवती के परिवारजनों ने इसकी जानकारी केजीएमयू के यूरोलॉजी विभाग को दी. डॉक्टरों को बताया गया कि पीड़िता जन्म से महिला है लेकिन उसके आंतरिक अंग और बच्चेदानी नहीं है. यहां तक की युवती को पीरियड भी नहीं आता है.

डॉक्टरों ने ऐसा दिया अंजाम

किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के यूरोलॉजी विभाग की टीम में शामिल प्रोफेसर विश्वजीत ने युवती और उसके परिवार की काउंसलिंग की. यूरोलॉजी विभाग की टीम ने फैसला किया कि युवती का ऑपरेशन किया जाएगा.

डॉक्टरों ने युवती की आंत से 10 सेंटीमीटर का टुकड़ा निकाल लिया और उसका जननांग बना दिया. ये ऑपरेशन करीब 8 घंटे तक चला. डॉक्टरों के अनुसार इस ऑपरेशन को मेडिकल साइंस में सिगमॉड वेजाइनोप्लास्टी कहा जाता है.

पति को मिलेगा साथ लेकिन..

डॉक्टरों द्वारा युवती का ऑपरेशन सफलता पूर्वक किया गया है. अब युवती को उसके पति का साथ तो मिल जाएगा लेकिन एक कमी वह महसूस करेंगी. दरअसल डॉक्टरों का कहना है कि इस ऑपरेशन के बाद युवती पत्नी के तौर पर पति के पास रह पाएगी लेकिन वह अभी बच्चे को जन्म नहीं दे पाएगी. किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के सीएमएस, एस.एन शंखवार ने बताया कि, जटिल परिस्थितियों में यह ऑपरेशन किया गया. इसमें करीब 8 घंटे लगे.

पुरुष को बनाया महिला

बता दें कि किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज में ऐसा पहला मामला नहीं है जब इस तरह के हैरान कर देने वाले ऑपरेशन किए गए हो. कुछ इसी तरह का एक केस पहले भी यहां सामने आ चुका है. दरअसल 16 साल का एक मरीज अनुवांशिक तौर से पुरुष था लेकिन वह महिलाओं की तरह से रहता था. उसने महिला बनने की इच्छा जताई. डॉक्टरों की जांच में उसके जननांग के नाम पर 2 सेंटीमीटर की गांठ मिली और अंडकोष के बजाए जांग के पास छोटे-छोटे गोनेडस पाए गए.

हैरान कर देने वाली बात यह थी कि पुरुष होने के बाद भी उसमें महिला का जननांग था और उसमें छोटी बच्चेदानी भी मिली. किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने इस का भी ऑपरेशन कर दिया और उसका जननांग बनाकर उसे महिला बना दिया. डॉक्टरों के अनुसार वह युवती की तरह अपने पति के साथ तो रह पाएगी लेकिन बच्चे पैदा नहीं कर सकेगी.

किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी
लखनऊ: नवजात शिशु के फेफड़ों में फंस गई थी आंत, KGMU के डॉक्टरों ने इस तकनीक से बचा ली जान

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in