आखिरकार घर में हो गया ‘ऑल इज वेल’, पत्नी डिंपल संग चाचा शिवपाल से मिले अखिलेश यादव

आखिरकार घर में हो गया ‘ऑल इज वेल’, पत्नी डिंपल संग चाचा शिवपाल से मिले अखिलेश यादव
फोटो: अखिलेश यादव/ ट्विटर

Mainpuri Byelection: यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद मैनपुरी में लोकसभा का उपचुनाव होना है. उपचुनाव के लिए सपा ने पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को अपना उम्मीदवार बनाया है. वहीं, दूसरी ओर भाजपा ने सियासी चाल चलते हुए मुलायम सिंह यादव के शिष्य और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के चीफ शिवपाल यादव के खासम-खास रहे रघुराज सिंह शाक्य को टिकट दी है. बीजेपी की इस सियासी चाल के बाद ये कयास लगाए जा रहे थे कि शिवपाल यादव उपचुनाव में रघुराज सिंह शाक्य को समर्थन दे सकते हैं. मगर अब खुद सपा चीफ अखिलेश यादव ने एक तस्वीर ट्वीट कर पूरी कहानी साफ कर दी है.

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने जो तस्वीर ट्वीट की है उसमें वह अपनी पत्नी डिंपल यादव के साथ नजर आ रहे हैं. साथ में उनके चाचा शिवपाल और उनके बेटे आदित्य भी बैठे हैं.

अखिलेश ने तस्वीर ट्वीट कर कहा,

"नेता जी और घर के बड़ों के साथ-साथ मैनपुरी की जनता का भी आशीर्वाद साथ है!"

अखिलेश यादव

अखलेश द्वारा खुद इस तस्वीर को ट्वीट करने के बाद सियासी गलियारों में ये चर्चा तेज हो गई है कि यादव परिवार में अब सब ‘ऑल इज वेल’ है. मतलब शिवपाल आगामी उपचुनाव में अपनी बहू डिंपल को ही समर्थन देंगे.

अखिलेश ने रचा ये चक्रव्यूह

अहम बिंदु

मिली जानकारी के अनुसार, मैनपुरी लोकसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी ने अपनी तरफ से चक्रव्यूह रच दिया है. अलग-अलग विधान सभा सीटों के हिसाब से जिम्मेदारी पार्टी के अलग-अलग नेताओं को दी गई है. धर्मेंद्र यादव को मैनपुरी, आदित्य यादव को जसवंतनगर, करहल और किशनी में से एक सीट पर तेज प्रताप यादव और जिला अध्यक्ष आलोक शाक्य को भोगांव विधानसभा सीट पर जिम्मेदारी दी गई है. वहीं, अखिलेश यादव, डिंपल यादव और शिवपाल यादव अलग-अलग इलाकों में जाकर जनसंपर्क और सभाएं करेंगे.

गौरतलब है कि मैनपुरी लोकसभा सीट पर 1996 से सपा के उम्मीदवार चुने जाते रहे हैं. डिंपल यादव 2019 में कन्नौज से भाजपा उम्मीदवार सुब्रत पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ी थीं और हार गई थीं. मैनपुरी संसदीय क्षेत्र में पांच विधानसभा क्षेत्र हैं- मैनपुरी, भोगांव, किशनी, करहल और जसवंत नगर. वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में सपा ने करहल, किशनी और जसवंत नगर सीट पर जीत हासिल की, जबकि भाजपा ने मैनपुरी और भोगांव सीट पर जीत हासिल की.

आखिरकार घर में हो गया ‘ऑल इज वेल’, पत्नी डिंपल संग चाचा शिवपाल से मिले अखिलेश यादव
शिवपाल की पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक, सपा उम्मीदवार डिंपल को जिताने का किया आह्वान

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in