अखिलेश बोले- 'बड़े-बड़े नेता आए, अब बड़े-बड़े गड्ढे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे में दिख रहे'

पीएम नरेंद्र मोदी और सपा चीफ अखिलेश यादव.
पीएम नरेंद्र मोदी और सपा चीफ अखिलेश यादव. फोटो कोलाज: यूपी तक

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) सोमवार को कन्नौज पहुंचे. वहां उन्होंने सपा महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिलाध्यक्ष कंचन कनौजिया के बेटे को आशीष कनौजिया को श्रद्धांजलि दी. बता दें कि आशीष कनौजिया की कैंसर के कारण 21 जुलाई को मौत हुई थी.

इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत की और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway) को लेकर सरकार पर जमकर हमला बोला. अखिलेश ने कहा कि बड़े-बड़े नेता आए और बड़े-बड़े गड्ढे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे में दिखाई दे रहे हैं.

उन्होंने कहा, "बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे में लूट हुई है, बल्कि डकैती हुई है, कोई कल्पना कर सकता है क्या कि देश के प्रधानमंत्री उसका उद्घाटन करें, बारिश के चलते गड्ढे हो जाए और वह बह जाए." अखिलेश ने आगे कहा, "आधा अधूरा एक्सप्रेसवे शुरू किया गया है. नकल करने के लिए भी अकल चाहिए होती है, बिना अक्ल के नकल भी नहीं कर सकते आप." अखिलेश का यह बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) पर निशाने के तौर पर देखा जा रहा है.

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 16 जुलाई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की मौजूदगी में 296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया था.

चौधरी हरमोहन सिंह यादव (Harmohan Singh Yadav) की पुण्यतिथि पर पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि चौधरी हरमोहन सिंह ने लगातार समाज को जोड़ने का कार्य किया. उन्होंने पिछड़ों और दलितों के हक में अवाज उठाई और वर्चुअल रैली में वह आ रहे हैं, जिनकी पार्टी पिछड़ों और दलितों का हक छीन रही है.

बता दें कि चौधरी हरमोहन सिंह समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के सबसे विश्वस्त सलाहकार और सिपहसालार थे. हरमोहन सिंह की पुण्यतिथि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में शामिल हुए.

अखिलेश यादव ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) पर निशाना साधते हुए कहा,

"बीजेपी वालों को यह चिंता करनी चाहिए कि उनके नेताओं के बारे में उन्होंने क्या-क्या कहा था, वह मैं जानता हूं. बीजेपी को यह चिंता करनी चाहिए कि जो नेता हमारे साथ थे, जब मैंने उनसे पूछा कि आपके पास कॉन्फिडेंस कितना होगा कि आप देश के प्रधानमंत्री से मिले होंगे, आप होम मिनिस्टर से मिले होंगे, आप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिले होंगे फिर जो भाषा उन्होंने इस्तेमाल की थी, तो मैं कह नहीं सकता. कई बार कुछ लोगों का रास्ता भटक जाता है."

ओम प्रकाश राजभर

आने वाले चुनावों को लेकर अखिलेश ने कहा कि हमारे साथ गठबंधन में जो पार्टियां बची हैं, हम उनके साथ चुनाव लड़ेंगे.

पीएम नरेंद्र मोदी और सपा चीफ अखिलेश यादव.
अखिलेश से छिटक रहे मुस्लिम? मौलाना ने ओम प्रकाश राजभर को दी ये खास सलाह, SP की चिंता बढ़ी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in