'यूपी + बिहार = गयी मोदी सरकार' पोस्टर पर केशव बोले- अखिलेश सत्ता के बगैर तड़पते रहेंगे

 केशव प्रसाद मौर्य
केशव प्रसाद मौर्यफोटो: सिद्धार्थ गुप्ता, यूपी तक

बांदा में शनिवार को एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने 'यूपी+बिहार = गयी मोदी सरकार' के पोस्टर पर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर जमकर निशाना साधा है.

उन्होंने कहा कि यूपी में अखिलेश यादव का खाता नहीं खुलेगा, वो बगैर सत्ता के जैसे तड़प रहे हैं, वैसे तड़पेंगे. नीतीश कुमार (बिहार के सीएम) को मुंगेरीलाल के हसीने सपने दिखाई दे रहे हैं. वह 2014 में अकेले लोकसभा का चुनाव लड़े थे, केवल 2 सीटों पर जीते थे. इस बार 2 भी जीत पाएंगे, इसकी गारंटी भी नहीं है, क्योंकि उनकी सरकार को सुपर CM बनकर लालू प्रसाद यादव चला रहे हैं. वहां सरकार नहीं बची है.

उन्होंने आगे कहा कि यूपी लगातार आगे बढ़ रहा है, जनता ने अखिलेश यादव की सफाई कर दी है. लगातार 4 चुनाव वो हार चुके हैं. बसपा का कोई अता-पता नहीं है. राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं अपने परिवार के लोगों को बचाने के लिए. दिग्गज नेता कांग्रेस छोड़ो अस्तित्व बचाओ अभियान चलाए हैं, इसलिए 2024 में 2019 से ज्यादा सीटें जीतेंगे. जनता ने आशीर्वाद दिया तो सभी 80 सीटें जीतेंगे.

अखिलेश सीएम योगी की अपेक्षा दोनों डिप्टी सीएम पर ज्यादा अटैकिंग मोड़ में हैं? इस सवाल उन्होंने कहा कि उनका स्वास्थ्य ज्यादा ठीक नहीं है, अच्छे डॉक्टर से इलाज कराना चाहिए. अखिलेश 25 साल तक बेचैन रहेंगे.

केशव मौर्य बांदा में सर्किट हाउस से सीधे पार्टी कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों के साथ 2024 के चुनाव की तैयारियों से संबंधित बैठक की. इसके बाद वह कृषि विश्वविद्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने निरीक्षण कर अधिकारियों को निर्देश दिया. इसके बाद वह सीधे कलेक्ट्रेट सभागार में पहुंचे, जहां उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक की.

केशव मौर्य ने अधूरे कार्यों को समय से पूरा करने के निर्देश दिए हैं. सड़कों की व्यवस्था दुरुस्त करने, शिक्षा गुणवत्ता और कानून व्यवस्था बरकरार बनी रहे. इस संबंध में उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिए.

 केशव प्रसाद मौर्य
यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने प्रयागराज में बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का किया निरीक्षण

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in