अलीगढ़: सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- विभाजनकारी राजनीति के लिए जानी जाती थीं पिछली सरकारें

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथफोटो: यूपी सीएमओ

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को विपक्षी दलों खासतौर से समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में पिछली सरकारें जातिवाद, क्षेत्रवाद और धार्मिक भावनाओं के आधार पर विभाजनकारी राजनीति के लिए जानी जाती थीं, वहीं वर्तमान सरकार सभी वर्गों के हित में काम करने के लिए प्रतिबद्ध है.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को अलीगढ़ में 86.5 करोड़ रुपये से अधिक की कुल 88 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के बाद प्रदर्शनी मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित किया.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ में रक्षा गलियारा और स्‍मार्ट सिटी उद्यम जैसी परियोजनाओं को लागू किया है.

उन्होंने संभावित निकाय चुनाव में भाजपा को पूर्ण बहुमत दिलाने का आह्वान करते हुए कहा कि डबल इंजन की सरकार ने विकास के एक नए युग की शुरुआत की है और केंद्र और राज्‍य की तरह जब निकायों में (शहरी स्‍थानीय निकाय चुनाव) में भारतीय जनता पार्टी के निर्वाचित प्रतिनिधियों का बहुमत मिलेगा तो विकास की गति और तेज होगी.

उन्होंने कहा कि जहां उत्तर प्रदेश में पिछली सरकारें जातिवाद, क्षेत्रवाद और धार्मिक भावनाओं के आधार पर विभाजनकारी राजनीति के लिए जानी जाती थीं, वहीं वर्तमान सरकार सभी वर्गों के लिए काम करने के लिए प्रतिबद्ध है.

योगी ने राज्‍य की बेहतर कानून-व्यवस्था का हवाला देते हुए कहा कि राज्य में कानून और व्यवस्था की बेहतर स्थिति से औद्योगिक विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ है और उद्यमी यहां निवेश करने में अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं.

उन्होंने कहा कि राज्य की जनता का समर्थन इसलिए मिला क्योंकि सरकार ने उन्हें सुरक्षा और स्वाभिमान, दोनों मुहैया कराया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में आम लोगों के लिए सभी नागरिक सुविधाओं में बड़ा सुधार करने के लिए तत्पर है. उन्होंने कहा कि पिछले पांच वर्षों के दौरान पूरे राज्य में बड़े पैमाने पर स्ट्रीट लाइट परियोजना चलाई गई.

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ
यूपी के 3 और शहरों में लागू हुई पुलिस कमिश्नरेट प्रणाली, योगी सरकार ने लगाई मुहर

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in