वियाग्रा के ओवर डोज ने युवक को पहुंचाया अस्पताल, ऑपरेशन के बाद सामने आई ये परेशानी

वियाग्रा के ओवर डोज ने युवक को पहुंचाया अस्पताल, ऑपरेशन के बाद सामने आई ये परेशानी
फोटो: पंकज श्रीवास्तव, यूपी तक

प्रयागराज में एक ऐसा मामला सामने आया है, जो उन लोगों की जिंदगी से जुड़ा है जो जानकारी के अभाव में अपनी जिंदगी खतरे में डाल रहे हैं. इसका ताजा उदाहरण तब देखने को मिला जब सेक्स वर्धक दवा (वियाग्रा) के ओवर डोज ने एक 28 वर्षीय युवक की जिंदगी में तूफान ला दिया. शादी के चंद दिनों बाद ही उसका जीवन नारकीय बन गया. हालांकि डॉक्टरों ने उसका सफल ऑपरेशन कर उसे बहुत हद तक सामान्य तो कर दिया पर समस्या ऐसी पैदा हो गई जिससे वो जीवन भर जूझता रहेगा.

अहम बिंदु

शादी के चंद दिनों बाद मैरिड लाइफ को रोमांटिक बनाने के लिए युवक के कुछ दोस्तों ने एक्सपर्ट बन सलाह देनी शुरू की. युवक ने आंख मूंदकर उनपर भरोसा कर लिया. पहले तो दोस्तों ने वियाग्रा को 25-30 मिलीग्राम खाने की सलाह दी. फिर उन्होंने युवक के दिमाग में फितूर भरे और उसे डोज बढ़ाने की सलाह दे दी. पीड़ित ने सीधे 200 ग्राम का सेवन कर लिया.

हालत बिगड़ने पर पहुंचा अस्पताल

इधर युवक की हालत बिगड़ गई. 20 दिन बाद भी निजी अंग नॉर्मल नहीं हुआ. यही नहीं युवक को फिजिकल रिलेशन से जुड़ी दूसरी परेशानियां भी हो गईं. इधर उसकी पत्नी ने उसके ये हालात देखे तो वो उसे छोड़कर मायके चली गई. किसी तरह ससुराल वालों ने बहू को वापस बुलाया. पत्नी ने पति को अस्पताल में भर्ती कराया पर उसकी हालत देख उसे वहीं छोड़कर फिर चली गई.

ऑपरेशन के बाद आई नई परेशानी

ऑपरेशन के बाद युवक नॉर्मल तो हो गया पर उसका गुप्तांग नॉर्मल नहीं हो पाया. डॉक्टरों का कहना है कि उसे अब लंगोट या सपोर्टर पहनकर रहना पड़ेगा. इस केस को डॉक्टरों ने चुनौती के रूप में लिया और दुर्लभ पेनाइल प्रोस्थेसिस ऑपरेशन कर उसे मानो नई जिंदगी दे दी. जल्द ही युवक फिर सामान्य ढंग से जीवन जीने लगेगा.

मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज के स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल (एसआरएन) में यूरोलाजी विभाग के डाक्टरों की टीम ने करीब ढाई घंटे तक आपरेशन कर उसे बचा लिया. ऐसा ऑपरेशन चिकित्सा जगत में दुर्लभ माना जाता है. इस ऑपरेशन के बाद अब नपुंसकता से परेशान लोगों के लिए नई उम्‍मीद भी जग गई है.

नपुंसक होने की कगार पर पहुंच चुके इस युवक के लिए मुंबई के डा. रूपिन शाह ऑपरेशन फार्मूले को अपनाया गया. यह प्रयागराज में पहली बार हुआ. इससे नपुंसकता का अभिशाप झेल रहे अन्य लोगों के लिए भी उम्मीद जग गई है. सुपर स्पेश्यलिटी ब्लाॅक स्थित यूरोलाजी विभाग के अध्यक्ष डॉ. दिलीप चौरसिया टीम की कामयाबी से गदगद हैं. उन्होंने बताया कि युवक ने दो माह पहले संपर्क किया था. विवाह करीब तीन माह पहले ही हुआ है. पेशेंट वियाग्रा का सेवन पहले से करता था और शादी के बाद डोज बढ़ा दी. दुष्परिणाम यह हुआ कि शारीरिक संबंध बनाने की क्षमता खत्म कर बैठा.

डॉक्टरों की सलाह लेकर लें ऐसी दवाएं

डॉक्टर ने इसका कारण बताते हुए कहा कि युवक ने वियाग्रा की 200 मिलीग्राम डोज ले ली थी. आमतौर पर यह 25 से 30 मिलीग्राम लेनी चाहिए वह भी डाक्टरों की सलाह पर ही. ऑपरेशन के दौरान युवक के गुप्तांग में पेनाइल प्रोस्थेसिस प्रत्यारोपित किया गया. इसे दिल्ली से मंगाया गया था, इसकी कीमत 35 हजार रुपये है. मरीज की हालत अब ठीक है और अगले एक सप्ताह बाद उसे अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है.

वियाग्रा के ओवर डोज ने युवक को पहुंचाया अस्पताल, ऑपरेशन के बाद सामने आई ये परेशानी
हरदोई: पति के अप्राकृतिक दुष्कर्म का पत्नी ने किया विरोध तो मिली ये सजा

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in