प्रयागराज: महाकुंभ की तैयारियां तेज, CM योगी करेंगे हाई लेवल मीटिंग, 483 करोड़ का प्रस्ताव

प्रयागराज: महाकुंभ की तैयारियां तेज, CM योगी करेंगे हाई लेवल मीटिंग, 483 करोड़ का प्रस्ताव
फोटो: PTI Photo/ Manvender Vashist

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 2025 में प्रयागराज में होने वाले महाकुंभ की तैयारी शुरू कर दी है. महाकुंभ 2025 की रूपरेखा तैयार करने के लिए 24 नवंबर गुरुवार को प्रयागराज में एक उच्च स्तरीय बैठक होगी. इस बैठक की अध्यक्षता सीएम योगी करेंगे. इस बैठक में सीएम कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों, मुख्य सचिव और कम से कम आठ से 10 अन्य विभागों के प्रमुख शामिल होंगे, जिनपर धार्मिक आयोजन को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी.

अहम बिंदु

बैठक के दौरान सीएम योगी प्रारंभिक प्रेजेंटेशन देखेंगे. आयोजन के लिए बेसिक प्लान तैयार कर लिया गया है. वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और सार्वजनिक कार्यों, बिजली, सिंचाई, शहरी विकास, स्वास्थ्य, गृह, आवास और शहरी नियोजन, परिवहन, पर्यटन, अन्य विभागों के प्रमुखों के उन मुद्दों को हल करने के लिए उच्च-स्तरीय बैठक में भाग लेने की उम्मीद है.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि महाकुंभ के आयोजन का पैमाना और आकार बहुत भव्य होगा. हम इस आयोजन को ऐतिहासिक बनाने जा रहे हैं. आयोजन में सिविल इंजीनियरिंग, पर्यावरण, सतत विकास और डिजाइन में पाठ्यक्रमों का अध्ययन करने वाले शोध छात्रों से गुणवत्ता सामग्री के साथ लागत प्रभावी तरीके से कार्यक्रम आयोजित करने में मदद ली जाएगी. संगम की रेत पर महाकुंभ-2025 के दौरान देश-दुनिया के श्रद्धालु इस भव्य आयोजन के सहभागी बनेंगे. दुनिया के सबसे बड़े संतों और श्रद्धालुओं के लिए बनाए जाने वाला टेंट सिटी पिछले महाकुंभ से भी बड़ा होगा.

इसके लिए 25 पंटून ब्रिज बनाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है. महाकुंभ के लिए 483 करोड़ रुपये का अनुमानित बजट प्रस्तावित किया गया है, जिसमें चैकर्ड प्लेट रोड, गाटा मार्ग और पंटून पुल शामिल हैं. गौरतलब है कि अरैल से तीन किमी आगे तक महाकुंभ के विस्तार की योजना है. इस महाकुंभ के लिए माघ मेला की तुलना में पांच गुना अधिक पांटून पुल बनाने की योजना है.

वीआईपी पर्यटकों और शीर्ष संतों के लिए अरैल साइड में अनंत माधव और चक्रमाधव पांटून पुल पहली बार बनाए जाएंगे. सोमेश्वर महादेव के आगे से लेकर फाफामऊ के बीच तंबुओं का शहर बसाया जाएगा.

खास बात यह है कि महाकुंभ के पंटून पुलों और चेकर्ड प्लेट मार्गों के लिए पहले 644 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित था. जिसे संशोधित कर 483 करोड़ रुपये कर दिया गया है. यह संशोधित प्रस्ताव शासन को लोक निर्माण विभाग के कुंभ मेला प्रमंडल द्वारा भेजा गया है. महाकुंभ 2025 को देखते हुए 43 सड़कों के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण का प्रस्ताव भी तैयार किया गया है. इन सड़कों पर 458 करोड़ रुपये का अनुमानित बजट रखा गया है.

प्रयागराज: महाकुंभ की तैयारियां तेज, CM योगी करेंगे हाई लेवल मीटिंग, 483 करोड़ का प्रस्ताव
रामपुर: जेल जाने से बचे आजम खान, हेट स्पीच मामले में मिली रेगुलर बेल

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in