window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

फतेहपुर में दिखा गजब नजारा! ईद की नमाज पढ़ एक ऑटो में लौट रहे थे 27 लोग, पुलिस ने ये किया

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में एक ऐसा नजारा देखने को मिला, जिसे सुन आप भी हैरान रह जाएंगे. आपको बता दें कि यहां एक ऑटो रिक्शा में सवार होकर ड्राइवर सहित 27 लोग बकरीद की नमाज पढ़कर वापस अपने घर जा रहे थे. तभी इस ऑटो पर चेकिंग में लगे पुलिसकर्मियों की नजर पड़ी. इसके बाद पुलिसकर्मियों ने दौड़ाकर ऑटो रिक्शा को रोका और बच्चों सहित 27 लोगों की गिनती गिनकर ड्राइवर को फटकार लगाई एवं ऑटो रिक्शा को सीज कर दिया.

क्या है पूरा मामला?

फतेहपुर जिले के बिंदकी कोतवाली क्षेत्र के ललौली चौराहे पर पुलिस बकरीद पर्व के मद्देनजर चौराहे पर मुस्तैद थी. इस दौरान महरहा गांव के रहने वाले बच्चों सहित 27 लोग बकरीद की नमाज अदा कर एक ऑटो रिक्शा में सवार होकर अपने गांव लौट रहे थे. तभी भीड़ से भरे इस ऑटो पर पुलिस की नजर पड़ी. इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने दौड़कर ऑटो रिक्शा को पकड़ा.

बता दें कि इस दौरान पुलिसकर्मियों को ऐसा नजारा देखने को मिला, जिसे देख वे हैरान रह गए. इसके बाद पुलिसकर्मियों ने ऑटो रिक्शा में सवार लोगों की गिनती कर उन्हें बाहर निकाला. 27 लोगों की गिनती के बाद पुलिस ने ड्राइवर अमजद को फटकार लगाते हुए उसका ऑटो रिक्शा को सीज कर दिया.

सीओ बिंदकी पशुराम त्रिपाठी ने बताया, “बकरीद के मद्देनजर पुलिसकर्मी ललौली चौराहे पर मौजूद थे. तभी बकरीद नमाज अदा करके एक ऑटो रिक्शा में सवार होकर बच्चों सहित 27 लोग वापस अपने गांव जा रहे थे. तभी मौजूद पुलिसकर्मियों ने ऑटो रिक्शा को रोककर उसे सीज कर दिया.”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

फतेहपुर: ‘विधवा भाभी के चरित्र पर था शक, शराबी देवर ने की उसकी फावड़े से निर्मम हत्या’

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT