कानपुर: कारोबारी मनीष की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, अब परिजनों से मिलेंगे CM योगी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

कानपुर के बर्रा इलाके के रहने वाले मनीष गुप्ता की संदिग्ध मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है. यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ गुरुवार को कानपुर के दौरे के दौरान पीड़ित परिवार से मुलाकात करेंगे. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक कानपुर के डीएम विशाख अय्यर ने इस आगामी मुलाकात की जानकारी दी है.

सीएम से होने वाली मुलाकात के संबंध में पूछे जाने पर मनीष की पत्नी मीनाक्षी ने कहा कि वह सीएम के सामने अपनी मांग रखेंगी. मीनाक्षी ने कहा कि उनके पति को 6 पुलिसवालों ने मिलकर मार दिया. उन्होंने बताया कि अभी तक मनीष का अंतिम संस्कार नहीं किया गया है.

आपको बता दें कि मनीष के परिजनों ने सरकार से कई मांगें रखी हैं. इन्हीं मांगों को लेकर कानपुर डीएम व कानपुर पुलिस कमिश्नर संग करीब 4 घंटे की मीटिंग हुई. परिजनों की तरफ से सहमति मिलने के बाद यह तय किया गया कि गुरुवार को कानपुर आ रहे सीएम योगी आदित्यनाथ से परिजनों की मुलाकात कराई जाएगी.

प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत ने प्रदेश सरकार को सियासी भंवर में भी फंसा दिया है. अखिलेश यादव, मायावती और प्रियंका गांधी जैसे विपक्षी नेताओं ने सरकार पर निशाना साधा है. बुधवार को प्रियंका गांधी ने मृत युवक की पत्नी मीनाक्षी से फोन पर बात भी की है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इस मामले में गोरखपुर पुलिस शक के घेरे में है. आरोप हैं कि गोरखपुर गए मनीष को पुलिसवालों ने इतना पीटा कि उनकी मौत हो गई. मनीष की पत्नी मीनाक्षी ने 6 पुलिसवालों के खिलाफ गोरखपुर में FIR भी कराई है, जिनमें से 3 नामजद हैं. FIR में आईपीसी की धारा 302 लगाई गई है.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT