लखनऊ: विवाहित महिला की गला रेतकर हत्या, ससुराल पक्ष पर मर्डर का केस दर्ज

लखनऊ: विवाहित महिला की गला रेतकर हत्या, ससुराल पक्ष पर मर्डर का केस दर्ज
लखनऊ में एक 32 वर्षीय विवाहिता की हत्या से हड़कंप मच गया है.फोटो: सत्यम मिश्रा, यूपी तक

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के दुबग्गा कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले दौलत खेड़ा गांव में एक 32 वर्षीय विवाहिता की हत्या का मामला सामने आया है. महिला की गला रेतकर हत्या हुई है. डेड बॉडी मिलने से गांव में हड़कंप मच गया और ग्रामीण वहां पर एकत्रित हो गए.

बताया जा रहा है कि घटना के बाद मृतक महिला के पति ने ससुराल पक्ष को कॉल करके घटना की जानकारी दी और बताया कि उसकी पत्नी निधि ने आत्महत्या कर ली है. जिसके बाद आनन-फानन में मायके वाले अपनी बेटी के पास पहुंचे और उसे तुरंत नजदीक के अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे पीजीआई के लिए रेफर कर दिया.

पीजीआई पहुंचने के बाद डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया. महिला की मृत्यु के पश्चात परिजनों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

वहीं मृतक महिला के परिजनों ने बेटी निधि की गला काटकर हत्या किए जाने को लेकर पुलिस को तहरीर दी. जिसके बाद पुलिस ने ससुराल पक्ष पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है. मृतक महिला की मां उमा देवी ने बताया कि बेटी निधि को आए दिन ससुराल वाले दहेज कम देने के चलते उसे प्रताड़ित किया करते थे. जिसके चलते कई बार मृतक बेटी ने अपने मां-बाप को इसकी जानकारी दी और बताया कि ढाई लाख रुपये की और मांग ससुराल पक्ष वाले कर रहे हैं.

मृतक निधि की मां ने आगे बताया कि उनकी बेटी की शादी 8 साल पहले बाल किशोर नामक शख्स से की गई थी और उसकी 2 साल की बेटी भी है. लेकिन उसका पति अपने भाई गुड्डू बबलू पप्पू और दो बहनें बबली और सीमा के साथ मिलकर हर दिन उसे प्रताड़ित किया करते थे. हर दिन कम दहेज मिलने का ताना मारा करते थे और इसी के नाते मेरी बेटी की गला रेतकर सब ने मिलकर हत्या कर दी.

मिली जानकारी के मुताबिक, निधि का गला काटा गया है तो वहीं उसके शरीर पर चोट के भी कई निशान पाए गए हैं. आरोप है कि घटना को छुपाने के लिए पति सोनू ने अपनी पत्नी का शव बाहर रख दिया और मृतक पत्नी के घरवालों को सूचित करते हुए इसे आत्महत्या का नाम दिया.

इस पूरे मामले में एडीसीपी दक्षिणी राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि मामले में आईपीसी सेक्शन 302 और 34 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. घटना को अंजाम देने वाले सभी फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार करके सलाखों के पीछे डाला जाएगा. साथ ही पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.

लखनऊ में एक 32 वर्षीय विवाहिता की हत्या से हड़कंप मच गया है.
लखनऊ: बच्ची की हत्या मामले में 13 साल के नाबालिग तक पहुंची पुलिस, सामने आई ये बात

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in