4 ज्योतिर्लिंग के दर्शन कराने वाली पहली स्वदेश दर्शन ट्रेन यहां से होगी रवाना, जानें डिटेल

4 ज्योतिर्लिंग के दर्शन कराने वाली पहली स्वदेश दर्शन ट्रेन यहां से होगी रवाना, जानें डिटेल
तस्वीर: गजेंद्र त्रिपाठी, यूपी तक

चारों ज्योतिर्लिंग का दर्शन करना हर बुजुर्गों का सपना होता है. कुछ ये सपने पूरे कर लेते हैं पर कुछ के सपने पैसों की किल्लत के चलते अधूरे रह जाते हैं. ऐसे में आईआरसीटीसी (IRCTC) ने दर्शन के लिए EMI व्यवस्था शुरू की है. चारो ज्योतिर्लिंग के दर्शन की कीमत आईआरसीटीसी ने 15,150 रुपए रखा है. वहीं अब प्रति माह 536 रुपए का भुगतान करके भी ये यात्रा की जा सकती है.

अहम बिंदु

ओंकारेश्वर,महाकालेश्वर, सोमनाथ और नागेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन के लिए आईआरसीटीसी ने गोरखपुर से 15 अक्टूबर से स्वदेश दर्शन ट्रेन यात्रा संचालित करेगी. ज्योतिर्लिंग दर्शन यात्रा 15 अक्टूबर से 22 अक्टूबर तक चलेगी. ये पूरा सफर 7 रात 8 दिन का है. सफर में सुबह का नाश्ता दोपहर और रात का शाकाहारी भोजन है. ट्रेन से उतरने के बाद बस की सुविधा, रहने के लिए धर्मशाला की सुविधा भी आईआरसीटीसी द्वारा मुहैया कराई जाएगी.

मुख्य क्षेत्रीय प्रबंधक अजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि स्वदेश दर्शन ट्रेन 15 अक्टूबर को गोरखपुर से रवाना होकर वापस 22 अक्टूबर को लौटेगी. ट्रेन से यात्रा आरंभ करने की सुविधा गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज संगम, लखनऊ और वीरांगना लक्ष्मी बाई जंक्शन से होगी. ज्योतिर्लिंग के अलावा दर्शन के दौरान बीच में पड़ने वाले द्वारका, शिवराजपुर के बीच भी ट्रेन में बैठकर सफर करते हुए वहां का आनन्द ले सकेंगे.

इस ट्रेन में कुल 824 सीटें होंगी. उन्होंने बताया कि प्रति व्यक्ति 7 रात 8 दिन का जो पैकेज है व टोटल 15150 रुपए है. इच्छुक व्यक्ति यदि एक बार एक मुस्त पैसा नहीं दे पाएंगे तो उनके लिए आईआरसीटीसी द्वारा 536 रुपए प्रतिमाह ईएमआई पर व्यवस्था की गई है, ताकि हर कोई 4 ज्योतिर्लिंग का दर्शन कर सकें.

स्लीपर क्लास होंगी बोगियां

भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आइआरसीटीसी) स्लीपर क्लास बोगियों वाले स्वदेश दर्शन ट्रेन के संचालन को हरी झंडी दे दी है. पहली स्वदेश दर्शन ट्रेन 15 अक्टूबर को गोरखपुर से चलेगी. यह ट्रेन चार ज्योर्तिलिंग के दर्शन कराएगी. इस यात्रर के लिए बुकिंग भी शुरू हो गई है. रेलवे बोर्ड पहले स्लीपर क्लास वाली भारत दर्शन ट्रेन चलाता था. इस ट्रेन पर रेलवे बोर्ड 50 प्रतिशत तक सब्सिडी देता था.इस कारण भारत दर्शन ट्रेन से यात्रा करना सस्ता था. इस साल मार्च से भारत दर्शन ट्रेन को बंद कर दिया गया. उसकी जगह प्रधानमंत्री मोदी स्वदेश दर्शन ट्रेन चलाने की घोषणा की गई थी.

4 ज्योतिर्लिंग के दर्शन कराने वाली पहली स्वदेश दर्शन ट्रेन यहां से होगी रवाना, जानें डिटेल
फिरोजाबाद: रेलवे ट्रैक पर फंसी महिला, सामने से आ रही थी तेज रफ्तार ट्रेन, देखें क्या हुआ?

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in