मदरसा सर्वे की आज दाखिल होगी फाइनल रिपोर्ट, जानें अब तक क्या-क्या सामने आया?

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीरफोटो: मंदार देवधर, इंडिया टुडे

UP News: यूपी की योगी सरकार के निर्देश पर राज्य में मदरसों के सर्वे का काम पूरा किया जा चुका है. बता दें कि 10 सितंबर को मदरसे सर्वे का काम शुरू हुआ था. सर्वे के दौरान मदरसों को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है और जो आंकड़े निकल के आए हैं, वे चौंकाने वाले हैं! मिली जानकारी के अनुसार, अभी तक 25000 मदरसों की संख्या निकल कर आई है, जिनमें 16517 मदरसे मान्यता प्राप्त हैं, जबकि 8496 गैर मान्यता प्राप्त हैं. आपको बता दें कि मदरसा सर्वे की फाइनल रिपोर्ट आज यानी सोमवार को दाखिल कर दी जाएगी. अब तक 70 जिलों की रिपोर्ट शासन के पास आ गई है और बचे हुए 5 जिलों की रिपोर्ट भी जमा कर दी जाएगी.

ऐसी खबर है कि फाइनल रिपोर्ट मिलने के बाद सरकार गैर मान्यता प्राप्त मदरसों पर एक्शन ले सकती है. कहा जा रहा है कि यूपी सरकार की दीनी तालीम के साथ आधुनिक शिक्षा देने पर भी जोर है. फाइनल सर्वे रिपोर्ट आने के बाद कई अहम फैसले हो सकते हैं. मिली जानकारी के अनुसार, अकेले लखनऊ में सर्वे के दौरान 111 गैर मान्यता प्राप्त मदरसों के होने की बात सामने आई है, यहां जबकि 131 मदरसे से मान्यता प्राप्त पाए गए हैं. वहीं, प्रदेश के मुरादाबाद जिले में सबसे ज्यादा गैर मान्यता प्राप्त मदरसे मिले हैं.

बहराइच में इतने मिले गैर मान्यता प्राप्त मदरसे

बहराइच के जिला अल्पसंख्यक अधिकारी संजय मिश्रा ने बताया कि जनपद में कुल 792 मदरसे संचालित हैं जिनमें मान्यता प्राप्त मदरसों की संख्या 302 है और 11 मदरसे राज्य सरकार द्वारा अनुदानित हैं. वहीं जिले में 491 मदरसे गैर मान्यता प्राप्त यानी अवैध तरीके से संचालित होते पाए गए हैं. इनमें सबसे अधिक 107 गैर मान्यता प्राप्त मदरसे नानपारा तहसील क्षेत्र अंतर्गत इंडो नेपाल बॉर्डर क्षेत्र में पाए गए हैं.

सांकेतिक तस्वीर
मदरसा बोर्ड के चेयरमैन बोले- 'दारुल उलूम अंतरराष्ट्रीय संस्था, उसे मान्यता की जरूरत नहीं'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in