बांदा: मम्मी कहती थी मोबाइल मत देखो, बेटी ने प्रदेश में 9वां स्थान हासिल कर बढ़ाया मान

बांदा: मम्मी कहती थी मोबाइल मत देखो, बेटी ने प्रदेश में 9वां स्थान हासिल कर बढ़ाया मान
फोटो: सिद्धार्थ गुप्ता, यूपी तक

यूपी के बुंदेलखंड के सबसे पिछड़े क्षेत्र बांदा से प्रदेश की टॉप-10 सूची में जगह बनाना अपने आप मे एक मिसाल जैसा है, न बेहतर शिक्षा व्यवस्था न बेहतर टेक्नोलॉजी. फिर भी बांदा की बेटी ने ये साबित कर दिया कि टेक्नोलॉजी जरूर नहीं पर हौशले तो हैं. उन्हीं हौसलों से बेटी को प्रदेश में टॉप-10 में जगह मिली है. बेटी को मम्मी कहती थीं मोबाइल मत चलाओ पढ़ाई करो, लेकिन बेटी स्नेहा भारद्वाज ने लगन और मेहनत से 12वीं में 92.4% अंक हासिल कर जिले में टॉप कर प्रदेश में 9वां स्थान हासिल किया है. स्नेहा एनडीए ऑफिसर बनना चाहती हैं. स्कूल की प्रिंसिपल अमृता सिंह ने बेटी को बधाई दे उज्ज्वल भविष्य की कामना की है.

अहम बिंदु

इंटर में टॉप करने वाली बेटी स्नेहा ने बताया- मैं महज दिन में 6 से 7 घंटे ही पढ़ाई करती थी. मैं बहुत खुश हूं, मेरे मम्मी पापा दोनों प्राइवेट टीचर हैं, जिन्होंने मुझे बेहतर पढ़ने के तौर तरीके बताए. मैं आगे एनडीए में ऑफिसर बनना चाहती हूं और अफसर बनकर देश की सेवा करना चाहती हूं.

उन्होंने यह भी बताया कि मम्मी पढ़ने को बोलती थी, लेकिन मैं मोबाइल चलाती थी, यूट्यूब के माध्यम से भी पढ़ने की कोशिश करती थी, लेकिन मम्मी बहुत डांट लगाती थी. हमारे स्कूल में ग्रुप बहुत अच्छा था. हमेशा इस कम्पटीशन के दौर में पढ़ाई को लेकर ही चर्चाएं होती थीं. मेरा इंग्लिश फेवरेट सब्जेक्ट रहा है.

माता पिता भी बहुत खुश हैं. दोनों प्राइवेट टीचर हैं. उन्हें विश्वास ही नहीं हो रहा कि हमारी बेटी ने टॉप किया है. मां ने बताया कि मुझे हमेशा लगता था ये बहुत कम पढ़ती है क्या होगा इसका? मैं इसको कहती थी मोबाइल मत चलाओ, पढ़ाई करो. मैं कहती थी हर सब्जेक्ट को समय दो, आखिरकार बेटी ने जिला टॉप किया है. मैं बहुत खुश हूं.

वहीं सरस्वती बालिका विद्या मंदिर इंटर कॉलेज की प्रिंसिपल अमृता सिंह ने बताया कि हम पूरे विद्यालय परिवार सहित बहुत खुश हैं. ये बेटी देश का नाम रोशन करेगी. हम उनसे उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हैं. हम स्कूल में टॉप 20 बच्चियां छांटकर उन्हें अलग से मोटिवेशन करते हैं. उनके प्रश्नों के उत्तर बताकर उनको अलग से तैयारी की जाती है. आपको यह भी बता दें कि पूरे प्रदेश में 12वीं में बांदा टॉप पर रहा है. बांदा का 95.32% रिजल्ट रहा.

बांदा: मम्मी कहती थी मोबाइल मत देखो, बेटी ने प्रदेश में 9वां स्थान हासिल कर बढ़ाया मान
अमरोहा: दो किसानों की बेटियां 10th और 12th में जिले भर में रहीं अव्वल, लोग दे रहे बधाईयां

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in