जेवर MLA से मिलने के बाद बदली रोलर स्केटिंग खिलाड़ियों की किस्मत, CM योगी ने दिया ये भरोसा

जेवर MLA से मिलने के बाद बदली रोलर स्केटिंग खिलाड़ियों की किस्मत, CM योगी ने दिया ये भरोसा
फोटो: @DhirendraGBN/ ट्विटर

उत्तर प्रदेश को जल्द रोलर स्केटिंग ट्रैक (roller skating track) का तोफहा मिलने वाला है. इससे स्केटिंग करने वाले खिलाड़ियों की ट्रेनिंग आसान हो जाएगी. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने स्केटिंग का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे खिलाड़ियों से बातचीत करने के बाद ये निर्देश दिया है. अब तक यूपी के रोलर स्केटिंग करने वाले खिलाड़ी दिल्ली, मुंबई जैसे शहरों में जा कर ट्रेनिंग करते हैं.

आपको बता दें कि सीएम योगी से रोलर स्केटिंग करने वाले खिलाड़ियों ने मुलाकात की. इसमें स्केटिंग करने वाले कई राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी थे. उन्होंने कहा कि लखनऊ में ट्रेनिंग के लिए कोई ट्रैक नहीं है जिससे खिलाड़ियों को प्रैक्टिस करने में काफी दिक्कत होती है. अभी ये खिलाड़ी किसी बास्केटबॉल ट्रैक पर, तो कभी किसी पार्किंग में या सड़क पर स्केटिंग कर प्रैक्टिस करते हैं. ये न सिर्फ असुरक्षित है और इससे चोट लगने का खतरा होता है, बल्कि ट्रेनिंग भी ठीक से नहीं हो पाती. मुख्यमंत्री ने इन खिलाड़ियों की मांग पर जल्द ही रोलर स्केटिंग का बैंक्ड ट्रैक (banked track) बनाने का भरोसा दिया है.
दरअसल, ये खिलाड़ी लखनऊ में कोई ट्रैक न होने से जनेश्वर मिश्रा पार्क की पार्किंग में प्रैक्टिस कर रहे थे. जहां, साइकलिंग करने पहुंचे जेवर ग्रेटर नोएडा के विधायक धीरेंद्र सिंह ने इनको देखा. इनमें से एक खिलाड़ी को सीमेंट की बनी पार्किंग में गिरने से चोट भी लग गई. विधायक धीरेंद्र सिंह ने इनसे पूछा तो पता चला कि लखनऊ समेत पूरे यूपी में सरकार का बनाया स्केटिंग ट्रैक नहीं है. सिर्फ ग्रेटर नोएडा में एक प्राइवेट ट्रैक है, जिसपर स्केटिंग करने वाले खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं. जब कभी कोई स्केटिंग टूर्नामेंट होता है तो कुछ दिन के लिए ये खिलाड़ी दिल्ली और मुंबई जाकर प्रैक्टिस करते हैं.

विधायक धीरेंद्र सिंह कहते हैं,

"यूपी में सभी खेल और खिलाड़ियों को प्रोत्साहन दिया जाता है. ऐसे में मैं इन खिलाड़ियों और उनके कोच को लेकर सीएम योगी जी से मिलने गया और उनको स्केटिंग ट्रैक बनाने का अनुरोध दिया. उन्होंने खिलाड़ियों की जरूरत को समझा और ट्रैक बनाने के निर्देश दिए. अब जल्द ही इन खिलाड़ियों को ट्रैक की मिलेगी मिलेगी इससे इनकी प्रैक्टिस बेहतर हो सकेगी."

धीरेंद्र सिंह

विधायक ने ट्वीट कर कहा, "लखनऊ को जल्द मिलेगा स्केटिंग ट्रैक का तोहफा।विगत कई वर्षों से कर रहे थे बच्चे मांग. नेशनल व राज्यस्तरीय स्केटर्स का एक प्रतिनिधिमंडल आज मेरे साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री से मिला। प्रदेश के मुखिया ने बच्चों का स्वागत चॉकलेट देकर किया. यूपी सीएम का बच्चों के प्रति स्नेह अविस्मरणीय था."

यूपी सीएम ने न सिर्फ इन खिलाड़ियों की बात को ध्यान से सुना बल्कि चॉकलेट देकर इनका उत्साहवर्धन किया. स्केटिंग के कोच अंजनी कुशवाहा कहते हैं, "ट्रैक बनने से स्केटिंग करने वाले इन बच्चों को बहुत लाभ होगा. अभी इनको बाहर जाकर तैयारी करनी पड़ती है. जबकि यूपी में ईशान राज सिंह, अनिका सिंह, अविका मिश्रा, धृति वर्मा जैसे राष्ट्रीय स्तर स्केटर भी मौजूद हैं. स्पोर्ट्स के तौर पर रोलर स्केटिंग का शौक इधर बढ़ा है, पर ट्रेनिंग के लिए अब तक कोई ट्रैक न होने की वजह से कभी सड़क तो कभी पार्किंग में प्रैक्टिस करना पड़ता था.

उन्होंने आगे कहा, "अंतर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार रोलर स्केटिंग का ट्रैक 200 मीटर का होता है. ओवल शेप के ट्रैक के turns उठे हुए रहते हैं. रबर कोटिंग (rubber coating) या सिंथेटिक कोटिंग (synthetic coating) होने की वजह से स्केटिंग करने वाले को स्पीड मेटेंन करने में मदद मिलती है और गिरकर चोट लगने का खतरा नहीं रहता."

जेवर MLA से मिलने के बाद बदली रोलर स्केटिंग खिलाड़ियों की किस्मत, CM योगी ने दिया ये भरोसा
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक नया आयाम देगा: CM योगी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in