यूपी MLC चुनाव: SP के खाते में आईं 'शून्य' सीटें, अखिलेश यादव ने हार की अलग ही वजह बताई

यूपी MLC चुनाव: SP के खाते में आईं 'शून्य' सीटें, अखिलेश यादव ने हार की अलग ही वजह बताई
एसपी चीफ अखिलेश यादव.फोटो: इंडिया टुडे आर्काइव

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र से विधानपरिषद के चुनाव में मनमानी और धांधली का आरोप लगाया. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि बीजेपी ने लोकतंत्र को कमजोर करने का काम किया है.

अहम बिंदु

मंगलवार को एसपी मुख्यालय से जारी बयान के अनुसार यादव ने कहा कि स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव में बीजेपी की मनमानी और धांधली सभी हदें पार कर गईं. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने लोकतंत्र को कमजोर करने का काम किया है और इसके लिए बीजेपी को इतिहास कभी माफ नहीं करेगा.

यादव ने आरोप लगाया कि दूसरों को जातिवादी बताने वाली बीजेपी की ये सच्चाई है कि एमएलसी (विधानपरिषद सदस्य) चुनाव की 36 सीट में से कुल 18 पर मुख्यमंत्री जी के स्वजातीय लोग जीते हैं. उन्होंने सवाल उठाया कि एससी-एसटी (अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति) और ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) को दरकिनार कर ये कैसा ‘सबका साथ, सबका विकास’ है.

यादव ने कहा कि सामाजिक न्याय को लोकतंत्र के जरिये मजबूत करने की लड़ाई समाजवादी लड़ते रहेंगे. एसपी प्रमुख ने दावा किया कि भाजपा को संविधान, लोकतंत्र और निष्पक्ष चुनावों की प्रक्रिया में जरा भी विश्वास नहीं है.

उन्होंने कहा कि भाजपा धन-बल और छल से येन-केन-प्रकारेण सत्ता में बने रहने के लिए संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर करने के साथ ही लोकतंत्र की मर्यादाओं को भी तार-तार करने में लगी है.

अखिलेश ने कहा कि पंचायत चुनाव के बाद, आम विधानसभा चुनाव 2022 और अब स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्र से एमएलसी चुनाव में बीजेपी ने लोकतांत्रिक मर्यादाओं को कुचलने का ही काम किया है.

एसपी प्रमुख ने यह भी कहा कि समाजवादी पार्टी ने पहले ही बीजेपी की साजिशों के बारे में मुख्य निर्वाचन आयुक्त को पत्र लिखकर सचेत कर दिया था कि बीजेपी एमएलसी चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र और संविधान दोनो का संक्रमण काल है.

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानपरिषद की स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र की 27 सीट के लिए चुनाव की मतगणना मंगलवार को हुई, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 24 सीट जीत लीं.

मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (एसपी) का खाता नहीं खुल सका. इसके पहले भाजपा ने नामांकन प्रक्रिया के समय ही नौ सीट पर निर्विरोध जीत हासिल कर ली थी. इस चुनाव में दो सीट निर्दलीय और एक सीट जनसत्ता दल लोकतांत्रिक ने जीती है.

एसपी चीफ अखिलेश यादव.
BJP की 'जीत का बुल्डोजर', विधानसभा के बाद अब विधान परिषद में भी दो तिहाई का आंकड़ा पार

संबंधित खबरें

No stories found.