यूपी: ओवैसी पर केस दर्ज, मस्जिद को लेकर किया था दावा, PM-CM पर आपत्तिजनक टिप्पणी का आरोप

यूपी तक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में गुरुवार, 9 सितंबर को कोविड-19 गाइडलाइन्स का उल्लंघन और सांप्रदायिक माहौल को बिगाड़ने के आरोप में पुलिस ने एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ केस दर्ज किया. ओवैसी की जनसभा में प्रशासन की तरफ से 50 लोगों को अनुमति दी गई थी. लेकिन आयोजक मंडल ने स्टेज बनाकर पूरी जनसभा का आयोजन किया, जिसमें हजारों लोग शामिल हुए.

इस जनसभा को संबोधित करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने बाराबंकी के रामसनेहीघाट तहसील में बनी 100 साल पुरानी मस्जिद को प्रशासन गिराने की बात कही. इसके अलावा उन्होंने पीएम मोदी और सीएम योगी पर कथित तौर पर आपत्तिजनक टिप्पणी भी की. इस मुकदमे में असदुद्दीन ओवैसी के साथ-साथ आयोजक मंडल के सदस्यों का भी नाम है.

आज कोतवाली क्षेत्र मोहल्ला चांदा में एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी का कार्यक्रम चल रहा था जिसमें कोविड-19 और जो परमिशन दी गई थी उसकी शर्तों का उल्लंघन किया गया. साथ ही सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के लिए भड़काऊ भाषण भी दिए गए. कहा गया कि रामसनेहीघाट में 100 साल पुरानी मस्जिद को प्रशासन द्वारा तुड़वा दिया गया और उसका मलबा भी वहां से हटा दिया गया. उनका यह वक्तव्य वास्तविकता से बिल्कुल परे था. यह वक्तव्य देकर उन्होंने एक समुदाय विशेष को भड़काने और सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने का कार्य किया है. इसी क्रम में माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार व माननीय मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ भी अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया. धाराएं 153A,188,269,270 और महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

यमुना प्रसाद, एसपी बाराबंकी

आपको बता दें कि एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश के अपने 3 दिवसीय दौरे की शुरुआत 7 सितंबर को अयोध्या की रुदौली विधानसभा सीट से की थी. 8 सितंबर को वह सुल्तानपुर गए थे. वहीं, 9 सितंबर को उन्होंने बाराबंकी में अपने दौरे की समाप्ति की.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पत्नी संग एआईएमआईएम में शामिल हुए अतीक अहमद

ओवैसी के इस दौरे पर पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनकी पत्नी शाइस्ता परवीन एआईएमआईएम में शामिल हो गई हैं. ओवैसी ने शाइस्ता को पार्टी की सदस्यता दिलाई. वहीं, अतीक की पार्टी मेंबरशिप का कार्ड भी उन्हें ही सौंपा.

ADVERTISEMENT

रिपोर्ट: सैयद रेहान मुस्तफा

Exclusive इंटरव्यू: देखिए, ओवैसी को लेकर क्या बोले इमरान प्रतापगढ़ी?

ADVERTISEMENT

follow whatsapp

ADVERTISEMENT