BJP की नूपुर शर्मा पर हुए एक्शन से 'खुश' हुए मौलाना तौकीर, पर फिर भी चाहते हैं 'थोड़ा और'

BJP की नूपुर शर्मा पर हुए एक्शन से 'खुश' हुए मौलाना तौकीर, पर फिर भी चाहते हैं 'थोड़ा और'
मौलाना तौकीर रजाफोटो: कृष्णा गोपाल यादव, यूपी तक

नुपुर शर्मा को बीजेपी से निलंबित किए जाने के बाद इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल (IMC) के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का शुक्रिया अदा किया है. मगर मौलाना तौकीर का कहना है कि जब तक नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी नहीं हो जाती, तब तक 10 जून को बरेली में होने वाला धरना प्रदर्शन नहीं टलेगा. वहीं, उन्होंने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान की भी तारीफ की है. इसके अलावा कानपुर में हुई हिंसा के लिए उन्होंने पुलिस प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया है.

IMC के प्रमुख मौलाना तौकीर रजा ने रविवार को दरगाह आला हजरत स्थित अपने निवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने कहा,

"रसूल की शान में जो गुस्ताखी नूपुर शर्मा के की वो गलत है. हमने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई के लिए पत्र लिखा था. उन्होंने हमारी बात मान ली और नूपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया गया. लेकिन अब सरकार का काम बाकी है, सरकार को चाहिए कि वो नूपुर शर्मा को गिरफ्तार करवाए. जब तक गिरफ्तारी नहीं हो जाती, तब तक हम 10 जून को होने वाले धरना-प्रदर्शन को नहीं टाल सकते. अगर 10 जून तक गिरफ्तारी हो जाती है, तो हम धरना प्रदर्शन नही करेंगे."

मौलाना तौकीर रजा

वहीं, उन्होंने ये भी कहा की कल (सोमवार) हमारी एक मीटिंग होगी, जिसमें ये निर्णय लिया जाएगा कि धरना प्रदर्शन किया जाए या नहीं.

मौलाना तौकीर ने कहा कि कानपुर में जो हिंसा हुई उसके लिए पुलिस जिम्मेदार है. उन्होंने कहा की पथराव केवल एक तरफ से नहीं हुआ है. पुलिस ने वहां पर एकतरफा कार्रवाई की है.

वहीं, मौलाना ने कहा की बरेली में जो भी प्रदर्शन होगा वो गांधीवादी तरीके से किया जाएगा और उसमें किसी भी तरह की हिंसा नहीं होगी. अगर कोई भी घटना होती है, तो उसकी जिम्मेदारी उनकी होगी. जब उनसे पूछा गया कि जिले में धारा 144 लगा दी गई है, तो उन्होंने कहा कि कानपुर में हुई घटना की वजह से यहां धारा 144 लगाई गई है.

मौलाना तौकीर रजा
ज्ञानवापी पर मौलाना तौकीर बोले- हुकूमत को भुगतने होंगे परिणाम, PM मोदी को बताया धृतराष्ट्र

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in