वरुण गांधी ने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर उठाए सवाल, कही ये बात

वरुण गांधी ने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाया है.
वरुण गांधी ने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाया है.फोटो कोलाज: यूपी तक

उत्तर प्रदेश के जालौन जिले में बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे (Bundelkhand Expressway) पर माधोगढ़ के चिरिया सलेमपुर में भारी बारिश के चलते गहरा गड्ढा हो गया. पीलीभीत से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल खड़े किए हैं.

उन्होंने एक्सप्रेसवे पर चिरिया सलेमपुर नामक जगह पर सड़क के धंसने का वीडियो ट्वीट करते हुए कहा, "15 हजार करोड़ की लागत से बना एक्सप्रेसवे अगर बरसात के 5 दिन भी ना झेल सके तो उसकी गुणवत्ता पर गंभीर प्रश्न खड़े होते हैं. इस प्रोजेक्ट के मुखिया, सम्बंधित इंजीनियर और जिम्मेदार कंपनियों को तत्काल तलब कर उनपर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करनी होगी."

फोटो: वरुण गांधी के ट्वीट का स्क्रीनशॉट

वहीं, उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के प्रवक्ता दुर्गेश उपाध्याय ने लखनऊ में 'पीटीआई-भाषा' को बताया, ‘‘भारी बारिश के कारण बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे पर पानी भर गया था, जिसकी वजह से बुधवार रात करीब डेढ़ फुट सड़क धंस गयी थी. इसकी सूचना मिलते ही तुरंत अधिकारियों की टीम वहां पहुंची और इसे दुरूस्त कर दिया गया.’’ उन्होंने बताया कि सड़क की तत्काल मरम्मत कर इसे यातायात के लिए खोल दिया गया.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 16 जुलाई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की मौजूदगी में 296 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया था.

बता दें कि वरुण गांधी से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीट कर इसी मुद्दे को लेकर सवाल उठाया तो योगी सरकार में मंत्री नंद गोपाल गुप्ता 'नंदी' ने ट्वीट का जवाब देते हुए अखिलेश के ऑस्ट्रेलिया की पढ़ाई पर तंज कसा. साथ ही मंत्री नंद गोपाल ने सड़क धंसने की वजह बताई.

स्क्रीन ग्रैब: नंद गोपाल गुप्ता नंदी के ट्वीटर से.
नंद गोपल नंदी ने ट्वीट कर कहा- ''@yadavakhilesh जी सुना है आप ऑस्ट्रेलिया से पढ़कर लौटे हैं. अलग बात है कि आप अपने को गूगल मैप का बड़ा जानकार बताते हैं. लेकिन प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री की मर्यादा के अनुसार थोड़ा लिखकर फिर पढ़कर पोस्ट करना चाहिए! कम से कम बेसिक टेक्निकल नॉलेज तो आपको होनी ही चाहिए.''
स्क्रीन ग्रैब: नंद गोपाल गुप्ता नंदी के ट्वीटर से.

मंत्री नंद गोपाल नंदी ने बताई ये वजह

साथ ही नंदी ने ट्वीट करते हुए ये भी कहा- ''बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के निर्माण के पश्चात विभिन्न तकनीकी परीक्षण कराए जा रहे हैं. स्ट्रेट-एज एवं प्रोफाइलोमीटर से सतह असमानता की जांच एवं जहां कहीं भी असमानता है उसको दूर करने के लिए विशिष्टियों के अनुसार आयताकार भाग में पूर्व प्रयुक्त सामग्री को हटाकर दोबारा सरफेस लेयर का कार्य किया जा रहा है! मेरी आपको सलाह है कि अपने अल्पज्ञानी सलाहकारों के अधकचरे ज्ञान के भरोसे राजनीति न करें.''

स्क्रीन ग्रैब: अखिलेश यादव के ट्वीटर से

बता दें कि अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा था कि 'ये है भाजपा के आधे-अधूरे विकास की गुणवत्ता का नमूना… उधर बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का बड़े लोगों ने उद्घाटन किया ही था कि इधर एक हफ़्ते में ही इस पर भ्रष्टाचार के बड़े-बड़े गड्ढे निकल आए. अच्छा हुआ इस पर रनवे नहीं बना.'

(भाषा के इनपुट्स के साथ)

वरुण गांधी ने बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे की निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर सवाल उठाया है.
सरकार की खुली पोल, मंत्री-अधिकारियों के बीच बंदर-बांट के लिए चल रही खींचतान- अखिलेश

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in