वाराणसी: ज्ञानवापी केस में हिंदू पक्ष में ही हुए दो फाड़! इस याचिका को लेकर हुआ ये विवाद

वाराणसी: ज्ञानवापी केस में हिंदू पक्ष में ही हुए दो फाड़! इस याचिका को लेकर हुआ ये विवाद
फोटो कोलाज: यूपी तक

Varanasi News: ज्ञानवापी मामले (Gyanvapi Case) को लेकर अब हिंदू पक्ष में ही दो फाड़ नजर आ रहा है. इस मामले में अब विश्व वैदिक सनातन संघ प्रमुख किरण सिंह बिसेन के पक्ष ने हरिशंकर जैन (Harishankar jain) के गुट पर ही गद्दारी का आरोप लगा दिया है.

अहम बिंदु

दरअसल विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख किरण सिंह बिसेन ने वाराणसी की जिला अदालत में याचिका लगाई थी. बताया जा रहा है कि याचिका पर जिला कोर्ट का फैसला आने से पहले ही चार महिला वादियों की तरफ से वाराणसी जिला अदालत में एप्लिकेशन लगाई गई है. इसी एप्लिकेशन से सारा विवाद खड़ा हो गया है और हिंदू पक्ष में ही दो फाड़ नजर आ रहा है.

क्या है विवाद

बताया जा रहा है कि एप्लिकेशन में आर्डर 7 नियम 11 में स्टे के लिए कोर्ट से आवेदन किया गया है. इस वजह से किरण सिंह बिसेन की याचिका पर आंच आने की संभावना बढ़ गई है. इस मामले के सामने आते ही किरण सिंह के पक्षकारों ने केस को वाधित करने का आरोप लगाया है.

आपको बता दें कि दूसरे गुट के आवेदन पर 21 नवंबर को सुनवाई होगी लेकिन अभी सबकी नजरे 17 नवंबर की सुनवाई पर है. देखना यह होगा कि इन दिन जिला अदालत याचिका पर क्या फैसला सुनाती हैं.

याचिका में ये मांग की गई

विश्व वैदिक सनातन संघ प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन की तरफ से लगाई गई याचिका में कोर्ट से 4 मांगे की गई हैं. इसमें कथित शिवलिंग की पूजा अर्चना शुरू करने की मांग की गई है. इसी के साथ याचिका में कहा गया है कि ज्ञानवापी परिसर में दूसरे समुदाय का प्रवेश बंद किया जाए.

तीसरे बिंदु पर कोर्ट से कहा गया है कि संपूर्ण ज्ञानवापी परिसर हिंदुओं को सौंप दिया जाए तो वहीं कथित मंदिर के ऊपर बने विवादित ढ़ाचे को हटाने की भी मांग कोर्ट से की गई है. अब देखना यह होगा कि अदालत इस याचिका पर क्या फैसला लेती है.

वाराणसी: ज्ञानवापी केस में हिंदू पक्ष में ही हुए दो फाड़! इस याचिका को लेकर हुआ ये विवाद
ज्ञानवापी मामला: फास्ट ट्रैक कोर्ट ने टाला फैसला, अब इस दिन होगी सुनवाई

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in