चंदौली की ये जगहें देंगी हिल स्टेशन का मजा, अपनी छुट्टियां प्लान कर जरूर घूमें

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Chandauli News : अगर आप घूमने फिरने के शौकीन हैं और प्राकृतिक नजारे आप को आकर्षित करते हैं. तो हम आपको एक ऐसे स्थान के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप निश्चित रूप से चौंक जाएंगे. आप हैरान रह जाएंगे कि क्या मैदानी इलाकों में भी पहाड़ों जैसा आनंद लिया जा सकता है? जी हां हम आपको एक ऐसे ही खूबसूरत जगह के बारे में बताने जा रहे हैं. जहां जाने के बाद आप आप खुद को प्रकृत के काफी नजदीक पाएंगे.

यूपीतक की इस खास पेशकश में आज हम आपको लेकर चलेंगे पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली.हम आपको बताएँगे अद्भुत झरनों और जलाशयों के बारे मे. जी हां!हम बात कर रहे हैं चंदौली के राजदरी, देवदरी और औरवाटांड वाटरफॉल की. ये खूबसूरत झरने चंदौली नौगढ़ के जंगलों में स्थित हैं.एक वक्त था जब इस इलाके में लोग आने से डरते थे. क्योंकि कुछ दशक पहले तक इस इलाके मे नक्सलियों की धमक सुनाई देती थी.लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन की पहल कदमी से आज की तारीख में यहां पर लोग बेखौफ होकर आते हैं और प्राकृतिक छटा का भरपूर आनंद लेते हैं.

अद्भुत है राजदरी और देवदरी

नौगढ़ के जंगलों मे मौजूद राजदरी और देवदरी वॉटरफॉल चंदौली जिला मुख्यालय से तक़रीबन 55 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.राजदरी और देवदरी वाटरफॉल नौगढ़ तहसील मुख्यालय से तकरीबन 15 किलोमीटर पहले चकिया नौगढ़ मार्ग पर घने जंगलों के बीच में मौजूद है.राजदारी वॉटरफॉल से तकरीबन 1 किलोमीटर की दूरी पर चंद्रप्रभा डैम है.जिसका पानी राजदरी वॉटरफॉल में गिरता रहता है. राजदरी वॉटरफॉल के ठीक बगल में देवदरी वाटरफॉल मौजूद है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

औरवाटांड वाटरफॉल

वहीं अगर हम औरवाटांड़ वाटरफॉल की बात करें तो यह वॉटरफॉल राजदारी वॉटरफॉल से तकरीबन 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.यह वाटरफॉल भी काफी खूबसूरत है और यहां पर आसपास की पहाड़ियों पर रॉक पेंटिंग भी देखने को मिलती हैं. हालांकि यह वाटरफॉल अभी पर्यटन की दृष्टि से अछूता है.लेकिन इसकी खूबसूरती को देखते हुए इसके विकास के लिए जिला प्रशासन द्वारा एक प्रपोजल उत्तर प्रदेश सरकार को भेजा गया है.प्रपोजल के अनुसार इस वाटरफॉल को विकसित करने और पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए कई तरह के विकास कार्य किये जायेंगे.ताकि इस खूबसूरत झरने को पर्यटन के नक्शे पर लाया जा सके.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT