शादी के कार्ड पर मुलायम-अखिलेश-आजम! रिहाई की अनोखी मांग, वर-वधु ने आशीर्वाद में मांगे वोट

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

समाजवादी पार्टी (एसपी) से रामपुर के सांसद आजम खान अपने बेटे अब्दुल्लाह आजम के साथ कई मामलों में पिछले 20 महीनों से जेल में बंद हैं. इधर उन पर रामपुर की कोर्ट में बड़ी तेजी के साथ अदालती कार्यवाही जारी है. बावजूद इसके जैसे-जैसे यूपी चुनाव का समय नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे सांसद आजम खान और उनके पुत्र की रिहाई के लिए पार्टी समर्थक अपने-अपने अंदाज में मांग करते चले आ रहे हैं.

इसी क्रम में रामपुर जिला निवासी एक युवक ने अपनी शादी का कार्ड लाल और हरे रंग में छपवाया है. वहीं, इस पर मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, आजम खान और अब्दुल्लाह आजम की तस्वीरें भी छपवाई हैं. कार्ड के जरिए आजम खान व उनके पुत्र की रिहाई की मांग भी की गई है.

कार्ड में समाजवादी पार्टी के लिए वोट डालने की भी अपील की गई है

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

रामपुर जिले के सिविल लाइंस क्षेत्र अंतर्गत शिव विहार निवासी वैभव यादव की शादी 15 अक्टूबर को होनी है. इसको लेकर उनके घर में तैयारियां जारी हैं. शादी में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को लेकर रिश्तेदारों के साथ-साथ लोगों को भी कार्ड के जरिए निमंत्रण दिए जा रहे हैं, लेकिन इस निमंत्रण कार्ड की खास बात यह है कि इस पर आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्लाह आजम की रिहाई की मांग की गई है. इसके अलावा, कार्ड में समाजवादी पार्टी के हक में वोट डाले जाने की भी अपील की गई है. वैभव की शादी का कार्ड इस समय रामपुर के सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है.

वैभव यादव ने हमें बताया,

ADVERTISEMENT

“हमने एक मैसेज दिया है उत्तर प्रदेश सरकार को. आप देख सकते हैं किस तरह से आजम खान और उनके परिवार के साथ उत्पीड़न किया जा रहा है, सारी हदें पार कर दी हैं. हमने ये बताने की कोशिश की है कि हम अपनी खुशियों में भी आजम खान को और उनके परिवार को याद करते हैं, उनको हमेशा अपने दिलों में रखते हैं. एक संदेश देने की कोशिश की है कि आजम खान ऐसे शख्स हैं, जिन्होंने हम जैसे छात्रों के लिए एक यूनिवर्सिटी खड़ी की है.”

वैभव यादव

ADVERTISEMENT

उन्होंने आगे कहा, “हमारे परिवार के हर प्रोग्राम में आजम खान अपने परिवार के साथ शामिल होते थे. अब मेरी खुद की शादी है उसमें आजम खान साहब शामिल नहीं हो पा रहे हैं, उसका मुझे बहुत दुख है और मैं दुख को इस तरह से दिखाना चाह रहा हूं. मैं रामपुर में अपनी शादी का कोई भी कार्यक्रम बड़ा नहीं कर रहा हूं, आजम खान के बिना.”

रामपुर के प्रखर को बिना कोचिंग सिविल में मिली 29वीं रैंक, उनसे जानें सफलता की स्ट्रेटेजी

follow whatsapp

ADVERTISEMENT