आजम खान ने खुद को बिना हैसियत का आदमी बता कही ये बात

आजम खान ने खुद को बिना हैसियत का आदमी बता कही ये बात
सपा विधायक आजम खान. फोटो: आमिर खान

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान ने मीडिया के सवालों का रूंधे गले से जवाब देते हुए इशारों-इशारों में सपा मुखिया अखिलेश यादव से अपनी नाराजगी को अप्रत्यक्ष रूप से घुमाफिरा कर जाहिर कर दिया हैं. वही अपने आप को निराधार आदमी के साथ ही बिना हैसियत का आदमी तक बता डाला.

अहम बिंदु

अपने घर से चंद फासले की दूरी पर स्थित रामपुर की जिला जेल पहुंचे आजम खान ने जेल में बंद अपने समर्थकों से मुलाकात की. कुछ देर रुकने के बाद वह जेल निकल गए. इस दौरान जेल के बाहर मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा- मैं ना किसी के आने पर कोई कमेंट कर रहा हूं. जो आये उनका शुक्रिया, जो नहीं आ सके किन्ही कारणों से उनका भी शुक्रिया. इन सबके बीच उन्होंने अदालत का भी एक बार फिर से शुक्रिया अदा किया है.

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान यूपी की सत्ता परिवर्तन के बाद दर्ज हुए मुकदमों में लंबे समय तक जेल में रहे और शुक्रवार को रिहा होकर गृह जनपद रामपुर पहुंचे हैं. यहां की जेल में उनके कई समर्थक बंद हैं. लिहाजा वह अपने घर से निकलकर जिला जेल पहुंचे जहां पर उन्होंने समर्थकों से मुलाकात की और चंद मिनट बाद जेल के बाहर निकले. इस बीच उन्होंने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए रुंधे गले से अखिलेश यादव का बिना नाम लिए घुमा-फिराकर उनसे जाहिर तौर पर नाराजगी व्यक्त नहीं की बल्कि अपने आप को यहां तक कह डाला की मैं खुद निराधार आदमी हूं, मैं गरीब आदमी हूं गली में रहता हूं.

अहम बिंदु

आजम खान ने कहा कि जो लोग मुझसे मिलने आए उनका भी शुक्रिया और जो लोग किसी वजह से नहीं आ सके उनका भी शुक्रिया. मुझे जो मिला है वह न्यायपालिका से मिला है. तभी तो मैं यहां पर खड़ा हूं. आजम खान ने भाजपा पर भी नरम रुख अख्तियार करते हुए यहां तक कह डाला कि भाजपा के किसी भी एमपी एमएलए ने कभी भी मेरे बारे में कोई घटिया बात नहीं कही है. वह सिर्फ एक एजेंडा था.

मैं एमपी था पर मुझे आवास तक नहीं मिला

आजम खान ने सदन में जाने के सवाल पर कहा कि सदस्य तो मैं लोकसभा का भी था. जिन हालात में मैंने चुनाव जीता था आप जानते हैं, सरकार, प्रशासन, पुलिस जो सत्ता दल थे जो हुआ था, नंगा नाच किसने नहीं देखा था. हां बस इतना हुआ साढे़ 3 लाख की लीड डेढ़ लाख की हुई. तीन साढे़ 3 साल में मेंबर ऑफ पार्लिमेंट रहा. इन 2 साल मैं जेल में था, लेकिन मुझे रहने के लिए आवास नहीं दिया गया था. आजाद हिंदुस्तान का यह भी एक इकलौता इतिहास है. विधानसभा मेरे लिए कोई नई जगह नहीं है. दसवीं बार जाऊंगा. उस हाउस में मै चुना गया हूं क्यों नहीं जाऊंगा.

सपा विधायक आजम खान.
रामपुर में आजम खान बोले- 'विधानसभा के बजट सत्र में निश्चित रूप से हिस्सा लूंगा'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in