राकेश टिकैत बोले- किसानों पर गाड़ियों से हमला, फायरिंग भी की गई, जा रहा हूं लखीमपुर खीरी

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

लखीमपुर खीरी में आंदोलनरत किसानों पर बीजेपी के नेताओं द्वारा कथित रूप से गाड़ी चढ़ाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) ने आरोप लगाया है कि गृह राज्य मंत्री टेनी के बेटे ने गाड़ी से किसानों को रौंद दिया, जिसमें 3 किसानों की मौत हो गई है. अब इस मामले में बीकेयू नेता राकेश टिकैत का बयान भी सामने आ गया है.

राकेश टिकैत ने कहा है कि ‘वापसी लौट रहे किसानों के ऊपर गाड़ियों से हमला किया गया, फायरिंग की गई. अभी तक जो जानकारी है, कई लोगों की मौत हो गई है. लखीमपुर खीरी के लिए निकल रहे हैं, जो भी जानकारी मिलेगी उससे आपको अपडेट करते रहेंगे.’

संयुक्त किसान मोर्चा ने भी लगाए गंभीर आरोप

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

संयुक्त किसान मोर्चा ने लखीमपुर खीरी हिंसा के मामले में गंभीर आरोप लगाए हैं. मोर्चे की तरफ से दावा किया गया है कि एक किसान को गोली भी मारी गई है. संयुक्त किसान मोर्चा ने इस संबंध में केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष (मोनू) मिश्रा पर आरोप लगाए हैं. संयुक्त किसान मोर्चे की तरफ से कई नेताओं ने संयुक्त बयान जारी कर ये आरोप लगाए हैं.

क्या है मामला

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया इलाके में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का विरोध कर काले झंडे दिखा रहे किसानों के साथ कथित तौर पर बीजेपी नेताओं की झड़प होने खबर है. इस झड़प में 3 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई घायल हुए हैं. यह घटना तिकुनिया में आयोजित कुश्ती कार्यक्रम में यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के पहुंचने से पहले हुई है. मौके पर मौजूद गुस्साए किसानों ने काफिले में शामिल गाड़ी को आग के हवाले कर दिया. बता दें कि तिकुनिया इलाके में अजय मिश्रा टेनी का पैतृक गांव है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT