बहराइच: खेती कर रहे किसानों को नहीं दिखे घने कोहरे में हाथी, फिर वो हुआ जो नहीं होना था

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Bahraich News Hindi: उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां बीती रात खेत में मौजूद जंगली हाथियों के झुंड को भागने गए किसान को हाथियों ने घेर कर, रौंद कर मार डाला. इसमें किसान की दर्दनाक मौत हो गई. घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचे पुलिस और वन विभाग के कर्मियों ने शव को कब्जे में लिया. इस घटना पर जिले के कतर्नियाघाट वन्य जीव विहार के डीएफओ ने मृतक के परिजनों को आपदा राहत से पांच लाख रुपए दिलाए जाने की बात कही है.

ये है मामला

उत्तर प्रदेश समाचार: ये पूरा मामला इंडो नेपाल बॉर्डर क्षेत्र स्थित कतर्नियाघाट वन्य जीव विहार से सटे आंबा बर्दिया गांव से सामने आया है. मिली जानकारी के मुताबिक, कुछ किसान अपने गेहूं के खेत में सिंचाई कर रहे थे. घने कोहरे के कारण उन्हें यह एहसास नहीं हुआ कि जंगल में जंगली जानवर हैं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

अकेले ही करने लगा हाथियों को भगाने की कोशिश

बताया जा रहा है कि इसी दौरान अचानक जंगली हाथियों का झुंड किसानों के समीप आ गया. हाथियों को देखकर ही किसान भाग निकले. मगर इस दौरान आंबा गांव निवासी 32 वर्षीय सुरेश कुमार भागने की बजाए हाथियों को अकेले ही हांका लगा कर हटाने लगा, जिस पर गुस्साएं हाथियों ने किसान को घेरकर रौंद डाला, जिसमें किसान की दर्दनाक मौत हो गई.

ADVERTISEMENT

UP News: मामले की सूचना फौरन पुलिस को दी गई.घटना की सूचना पर पहुंचे क्षेत्रीय वन रेंज अधिकारी विजय कुमार मिश्रा पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और मृतक किसान के शव को अपने कब्जे में लिया.

UP Samachar: इस घटना पर कतरनियाघाट वन्य जीव विहार के डीएफओ (DFO) आकाशदीप बधावन ने बताया, “आंबा गांव में गज मित्र की तैनाती की है. साथ ही लोगों को हाथियों से बचने के लिए और उस क्षेत्र में कार्यरत एनजीओ (NGO) के माध्यम से किट का वितरण कराया गया है. इसी के साथ हाथियों के हमले से बचने के गुर भी सिखाए गए हैं.”

ADVERTISEMENT

आपको बता दें कि वन रेंज अधिकारी विजय कुमार मिश्रा ने मृतक परिवार को तत्काल दस हजार रुपए की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई है. इसी के साथ उन्होंने कहा है कि परिजनों को आपदा राहत कोष से पांच लाख रुपए की आर्थिक मदद दिलाई जाएगी.

बहराइच को लगेंगे विकास के पंख, 1750 करोड़ रुपए निवेश से बदलेगी जिले की किस्मत, जानें

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT