हमीरपुर: सुबह स्कूल पहुंचे छात्र-अध्यापक, गेट खुलते ही निकल गई सबकी चीख, खौफनाक था मंजर

हमीरपुर: सुबह स्कूल पहुंचे छात्र-अध्यापक, गेट खुलते ही निकल गई सबकी चीख, खौफनाक था मंजर
फोटो: नाहिद अंसारी

Hamirpur News: यूपी के हमीरपुर जिले में बुधवार सुबह सरकारी प्राइमरी स्कूल का गेट खुलते ही खौफनाक मंजर दिखा, तो छात्रों और अध्यापकों की चीखे निकल गई. सभी चीखते-चिल्लाते हुए उल्टे पैर स्कूल से भाग खड़े हुए. इस खौफनाक मंजर में क्लास रूम के अंदर स्कूल के प्रधानाचार्य की लाश पंखे के सहारे फांसी के फंदे से लटका रही थी.

आपको बता दें कि हमीरपुर जिले में सरीला ब्लॉक के उपरांखा गांव के सरकारी कन्या प्राथमिक विद्यालय में बुधवार सुबह जब स्कूल खुला तो प्रधानाचार्य का शव ऑफिस के रूम के अंदर फांसी के फंदे में लटकता मिला. घटना की सूचना पर सरीला के सीओ प्रमोद कुमार और डॉग स्क्वॉड की टीम मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू कर दी. पुलिस प्रथम दृष्टया इसे घरेलू कलह से तंग आकर सुसाइड मान रही है.

मिली जानकारी के अनुसार, मुस्कुरा थाना क्षेत्र के कंधौली गांव निवासी सुग्रीव श्रीवास (55) सरीला ब्लॉक क्षेत्र के उपरांखा गांव के सरकारी स्कूल में 2012 से कार्ययत थे. वर्तमान में वह प्रधानाचार्य थे. वह घर से उपरांखा गांव के प्राथमिक स्कूल से रोजाना अपडाउन करते थे.

इस सम्बंध में विद्यालय के सहायक अध्यापक रविंद्र ने बताया कि प्रधानाचार्य सोमवार के दिन घरेलू समस्याओं को लेकर बहुत परेशान थे. रो भी रहे थे, हताश थे. उन्हें समझाया गया था. सोमवार को वह घर चले गए. मंगलवार के दिन वह स्कूल आए लेकिन उन्होंने किसी से बात नहीं की पूरा दिन वह स्कूल की फील्ड में अकेले बैठे रहे. जब छुट्टी हुई तो सभी के साथ घर निकल गए.

शाम को प्रधानाचार्य के बेटे भानुप्रताप ने शिक्षा मित्र बलवान महेंद्र को बताया कि उनके पिता घर नहीं पहुंचे हैं. फोन भी रिसीव नहीं कर रहे हैं. खोजबीन करने पर कोई पता नहीं चल रहा है.

पुलिस ने कही ये बात

सरीला के सीओ प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि प्रधानाचार्य किसी घरेलू समस्या को लेकर परेशान थे जिसके चलते उन्होंने सुसाइड किया है. घटना की पुलिस जांच पड़ताल कर रही है. शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा दिया गया है. स्कूल के अंदर प्रधानाध्यापक का शव मिलने से छात्रों के साथ अध्यापकों में भी दहशत का माहौल है. सभी बहुत डरे हुए हैं और प्रधान अध्यापक की आत्महत्या का कोई कारण भी सामने नहीं आया है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद साफ होगा की उन्होंने आत्महत्या की थी या उनकी हत्या कर शव को फांसी पर लटकाया गया था.

हमीरपुर: सुबह स्कूल पहुंचे छात्र-अध्यापक, गेट खुलते ही निकल गई सबकी चीख, खौफनाक था मंजर
कलयुगी कंस! हमीरपुर में भाई ने की थी बहन और 2 भांजियों की हत्या, बचने के लिए किया ये काम

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in