लुलु मॉल वीडियो: मुस्लिम धर्मगुरु बोले- ऐसे नहीं होती नमाज, पुलिस का दावा- मिले अहम सुराग

लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले युवकों की तलाश में पुलिस जुटी है.
लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले युवकों की तलाश में पुलिस जुटी है.फोटो कोलाज: यूपी तक

लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज का वीडियो वायरल होने के बाद मचे बवाल के बीच ये सामने आया कि नमाज की दिशा गलत थी. यानी नमाज पढ़ने वालों ने पश्चिम की बजाय दूसरी दिशा में बैठकर नमाज पढ़ा था जो गलत है. इस संबंध में मुस्लिम धर्म गुरु मौलाना सूफियान निजामी का कहना है कि कोई भी नमाज कम से कम 4 से 5 मिनट में ही अदा की जा सकती है. इससे कम वक्त में अदा की गई नमाज कुबूल नहीं होगी. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि वीडियो में दिखाई दे रहे लड़के नमाज अदा करने के लिए नहीं बल्कि किसी और साजिश के तहत अंदर आए थे. इधर पुलिस ने दावा किया है कि उन्हें मामले में अहम सुराग हाथ लगा है. जल्द ही वायरल वीडियो में दिखाई दे रहे युवक गिरफ्तार होंगे.

अहम बिंदु

वायरल वीडियो पर मौलाना सूफियान निजामी का कहना है कि हिंदुस्तान या एशियाई महाद्वीप में सभी इस्लाम को मानने वाले पश्चिम दिशा में खड़े होकर ही नमाज अदा करते हैं. सभी नमाजियों का और इमाम का मुंह पश्चिम दिशा की तरफ ही होना चाहिए. मौलाना सूफी निजामी वायरल वीडियो को देखने के बाद साफ कहते हैं- वीडियो में दिखाई पढ़ रहे लड़के नमाज अदा करने के लिए नहीं किसी और साजिश के तहत अंदर आए थे. वह सिर्फ नमाज का वीडियो बनाने के उद्देश्य से आए थे. नमाज पढ़ने नहीं. यह माल को बदनाम करने की साजिश है.

पुलिस का दावा- अहम सुराग हाथ लगे हैं

लुलु मॉल में नमाज अदा करने के मामले में जांच कर रही पुलिस की सबसे बड़ी चुनौती नमाज अदा करने वाले लड़कों की पहचान करना है. लुलु मॉल के सीसीटीवी व अन्य सोर्स से मिली जानकारी के अनुसार लड़के दो गुट में बंटकर मॉल के अंदर आए थे. सबसे पहले ग्राउंड फ्लोर पर नमाज अदा करने की कोशिश की, जहां सिक्योरिटी गार्ड ने उनको रोका तो वह दूसरी मंजिल के कोने में खाली जगह पर नमाज अदा करने लगे और नमाज अदा करने का वीडियो बना कर दो फिर से दो गुट में दोबारा बंटकर वापस पैदल ही मॉल से बाहर चले गए. लड़कों ने मॉल से भी कुछ नहीं खरीदा. इस पूरे मामले की जांच कर रही टीम को लीड करने वाले एडिशनल डीसीपी राजेश श्रीवास्तव ने साफ कहा कि हम सीसीटीवी के सहारे नमाज अदा करने वाले लड़कों की पहचान करने में लगे हैं. कुछ अहम सुराग हमारे पास हैं. जल्दी इनकी शिनाख्त होने के बाद गिरफ्तारी की जाएगी.

गौरतलब है कि मामले को तूल पकड़ता देख लुलु मॉल प्रशासन ने वीडियो के आधार पर नमाजियों के खिलाफ थाने में मामला दर्ज करा दिया है. लुलु मॉल में नमाज पढ़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कुछ सदस्य गुरुवार को मॉल के गेट के बाहर पहुंचे और उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया. साथ उन्होंने वहां रामचरित मानस का पाठ करने के लिए भी कहा था पर एफआईआर दर्ज हो जाने के बाद वे पुलिस की कार्रवाई का इंतजार कर रहे हैं.

लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले युवकों की तलाश में पुलिस जुटी है.
लुलु मॉल: हिंदू लड़कियां और मुस्लिम लड़कों की संख्या पर बवाल के बीच ओवैसी का आया ये रिएक्शन

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in