window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

PM आवास पर मोदी की बैठक में स्मृति ईरानी को नहीं मिला न्योता, अमेठी हार के बाद जा सकती है केंद्रीय मंत्री की कुर्सी

यूपी तक

ADVERTISEMENT

Smriti Irani
Smriti Irani
social share
google news

PM Modi Oath Taking Ceremony: भारतीय जनता पार्टी गठबंधन की तीसरी सरकार का शपथ ग्रहण, रविवार शाम राष्ट्रपति भवन में होगा. एनडीए सरकार में उत्तर प्रदेश से भी मंत्री बनाए जाएंगे. इसमें भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दलों के नेता भी शामिल हैं. शपथ ग्रहण समारोह से पहले नरेंद्र मोदी ने NDA के संभावित मंत्रियों के साथ पहली बैठक की है, जिसकी तस्वीर सामने आई है. वहीं इस बैठक में भाजपा के कई बड़े चेहरे और पिछले सरकार मोदी कैबिनेट का हिस्सा रहे कई मंत्री नदारद दिखे, जिसमें यूपी से स्मृति ईरानी और अजय मिश्र टेनी का नाम भी शामिल है. 

यूपी से कट सकता है इनका पत्ता

जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के नेता और लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह, अपना दल सोनेलाल की नेता और मीरजापुर से सांसद अनुप्रिया पटेल. राष्ट्रीय लोकदल के नेता एवं राज्यसभा सांसद जयंत चौधरी, पीलीभीत से सांसद जितिन प्रसाद और  महारजगंज से सांदस पंकज चौधरीमंत्री बनाए जा सकते हैं. वहीं मोदी कैबिनेट से इस बार स्मृति ईरानी, वीके सिंह और अजय मिश्र टेनी का पत्ता कट सकता है. बता दें कि स्मृति ईरानी और अजय  मिश्र टेनी को इस लोकसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा है. 

वहीं पीएम आवास पर हुई बैठक में नरेंद्र मोदी ने कहा, 'सारे सांसद एक जैसे हैं. ईमानदारी पर ध्यान दें. गरीब लोगों और कार्यकर्ताओं पर विशेष ध्यान दें. कम से कम चार दिन मंत्रालय में काम करें और बाकी समय क्षेत्र में बिताएं. परिवार, रिश्तेदार को किसी पद पर नियुक्त ना करें. नरेंद्र मोदी ने भावी मंत्रियों से कहा, समय से पहले राष्ट्रपति भवन पहुंचे.'

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

यूपी में लगा बड़ा झटका

यूपी में इस साल के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को केवल 33 सीटें मिली हैं. ऐसे में मोदी कैबिनेट में यूपी के मंत्रियों का कोटा भी कम हुआ है. पिछली सरकार में यूपी से मोदी कैबिनेट में 12 मंत्री थे. उनमें से 7 मंत्री चुनाव हार गए.  2019 में  यूपी ने दिल्ली में मोदी सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाई थी. तब सहयोगी दलों के साथ मिलकर बीजेपी ने यूपी से 64 सीटें जीती सीटें जीती थीं. इसी वजह से केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व देते हुए प्रधानमंत्री समेत 14 मंत्री बनाए गए थे, जबकि इस बार ये आंकड़ा 36 (बीजेपी  33+ आरएलडी 2+ अपना दल 1) पर ही सिमट गया है. 

यूपी से ये बन सकते हैं मंत्री

सांसद पार्टी
राजनाथ सिंह बीजेपी
अनुप्रिया पटेल अपना दल (s)
जयंत चौधरी  रालोद
बीएल वर्मा (राज्यसभा सांसद) बीजेपी
जितिन प्रसाद  बीजेपी
पंकज चौधरी बीजेपी

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT