window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

‘मेरा शोषण हो रहा, अधिकारी गंदे कमेंट करते हैं’, लखनऊ में तैनात महिला सिपाही का वीडियो वायरल

सत्यम मिश्रा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Uttar Pradesh News: राजधानी लखनऊ में तैनात एलआईयू की महिला सिपाही का एक वीडियो सामने आया है. जिसमें वह रो-रो कर अपनी आप बीती लखनऊ पुलिस कमिश्नर को सुना रही है. महिला ने एलआईयू  निरीक्षक जावेद अख्तर पर मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना का आरोप लगाया है. महिला का कहना है कि,उसको परेशान किया जा रहा है.

 सिपाही महिला का वीडियो वायरल

महिला सिपाही का कहना है कि उसने इस संबंध में ंसीओ अवधेश चौधरी से शिकायत की, लेकिन उसे डांटकर भगा दिया गया. सीओ उसकी बात ही नहीं सुनते हैं. महिला सिपाही का कहना है कि कुछ कर्मचारी ऐसे हैं जो परेशान करते हैं और पीछे पड़ गए हैं. खासकर के इंस्पेक्टर जावेद अख्तर जो हमेशा उल्टी सीधी बातें करते रहते हैं और और गंदे -गंदे टोंट मारते रहते हैं. दरअसल, महिला सिपाही ने पुलिस कमिश्नर को अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि वह यूपी पुलिस में सिपाही के पद पर पदस्थ है. उसकी कोई सुनवाई नहीं होती है और एक दो बार आपके (पुलिस कमिश्नर) के पास पेश होने की कोशिश भी की, लेकिन मुझे पेश नहीं होने दिया गया. मुझे बहुत परेशान किया जा रहा है.

लगाए गंभीर आरोप

महिला ने वीडियो में आगे कहा कि वह पूर्व में फील्ड में काम करती थी, लेकिन अब उसे ऑफिस से अटैच कर दिया गया है. ऑफिस में काम तो कर रही हूं, लेकिन यहां मुझे ऐसा कोई काम नहीँ दिया गया है. सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक मुझे यहां बैठाया जाता है. इतना परेशान कर दिया गया है कि सीओ सर से कोई बात कहने जाती हूं  तो सीओ सर मेरी कोई बात नहीं सुनते हैंं. पीड़ित महिला सिपाही का कहना है कि ऐसे में वह आखिर किससे अपनी समस्या कहे.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

मामले पर डीसीपी मध्य अपर्णा कौशिक ने कहा है कि लखनऊ पुलिस में एलआईयू विभाग में तैनात महिला पुलिस कर्मी का वीडियो सामने आया है, जिसमें उसने कई आरोप लगा आरोप लगाए हैं. प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच एडीसीपी मध्य मनीषा सिंह को सौंपी गई है.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT