तो इसलिए हुआ था उमेश पाल हत्याकांड, सामने आई बड़ी वजह

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Umesh Pal Murder Update: प्रयागराज का उमेश पाल हत्याकांड लगातार सुर्खियों में बना हुआ है. इस हत्याकांड के बाद से माफिया अतीक अहमद का परिवार पूरी तरह से तितर-बितर हो गया है. खुद अतीक और अशरफ की हत्या की जा चुकी है, माफिया का बेटा असद एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया है जबकि उसकी पत्नी शाइस्ता (50 हजार की इनामिया) लगातार फरार चल रही है. इस बीच उमेश पाल हत्याकांड को लेकर एक बहुत बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल, पुलिस कस्टडी के दौरान अतीक के वकील खान सौलत हनीफ ने उमेश पाल की हत्या क्यों की गई, इसकी वजह बताई है. हनीफ के अनुसार, उमेश पाल ने एक शादी समारोह के दौरान अतीक की पत्नी शाइस्ता को लेकर अपशब्द कहे थे, जिससे माफिया भड़क गया था और फिर हत्याकांड की साजिश रची गई.

अतीक ने दी गाली तो उमेश पाल ने किया था पलटवार

अतीक के वकील खान सौलत ने पूछताछ में खुलासा किया है कि उमेश पाल मर्डर केस के आखिरी विवाद में भी गुड्डू मुस्लिम शामिल था. गुड्डू मुस्लिम ने जमीन विवाद को लेकर अतीकअहमद की उमेश पाल से आखिरी बार फोन पर बात करवाई थी. इस दौरान अतीक ने उमेश पाल को गालियां देना शुरू कर दिया था. फिर उमेश पाल ने भी पलट कर अतीक अहमद को गालियां दीं. इसके बाद दोनों के बीच फोन पर गर्मा-गर्मी हो गई.

उमेश ने शाइस्ता पर किया था कमेंट

सौलत ने पुलिस को दावा करते हुए बताया कि एक शादी कार्यक्रम के दौरान उमेश पाल ने अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन को लेकर कमेंट कर दिया था. ये बात जेल में अतीक अहमद के पास तक पहुंच गई थी, जिसके बाद अतीक काफी भड़क गया था. मिली जानकारी के मुताबिक, बमबाज गुड्डू मुस्लिम अतीक अहमद से मिलने गुजरात की साबरमती जेल गया था. वहां पर गुड्डू ने अतीक अहमद को पूरी बात बताई थी. इसके बाद बरेली जेल में बंद अशरफ ने ये पूरी साजिश रची थी.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

शाइस्ता और गुड्डू दोनों फरार

आपको बता दें कि बेटे असद के एनकाउंटर, पति अतीक और देवर अशरफ की हत्या के बाद भी शाइस्ता परवीन सामने नहीं आई है. पुलिस और एसटीएफ लगातार शाइस्ता को खोजने की कोशिश कर रही है. तो वहीं अशरफ की पत्नी जैनब और अतीक की बहन आयशा भी पुलिस की पकड़ से फरार है. दूसरी तरफ बमबाज गुड्डू मुस्लिम अभी तक पुलिस और एसटीएफ की पकड़ से फरार है.

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT