CM योगी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना सरकारी कर्मचारी को पड़ा भारी, पुलिस ने भेजा जेल

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश की राजनीति में इस वक्त नाम बदलने को लेकर चर्चा गर्म है. मैनपुरी से लेकर जौनपुर तक कई जिलों के नाम बदले जा…
social share
google news

उत्तर प्रदेश की राजनीति में इस वक्त नाम बदलने को लेकर चर्चा गर्म है. मैनपुरी से लेकर जौनपुर तक कई जिलों के नाम बदले जा रहे हैं. ऐसे में सोशल मीडिया भी इस मुद्दे से अछूता नहीं है. तमाम लोग इस पर बात कर रहे हैं. लेकिन एक सरकारी कर्मचारी को इस मुद्दे पर टिप्पणी करना भारी पड़ गया.

दरअसल, मामला यूपी के बांदा जिले का है. यहां पर लोक निर्माण विभाग (PWD) में बतौर क्लर्क के पद पर तैनात निजामुद्दीन सिद्दीकी नामक शख्स ने नाम बदलने को लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया. इस पोस्ट में निजामुद्दीन ने सीएम योगी आदित्यनाथ को सीधे निशाने पर लिया और कथित तौर पर उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की.

इस टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया पर बवाल मच गया. लोग यूपी पुलिस को टैग करके मांग करने लगे कि इस व्यक्ति पर कार्रवाई की जाए. बाद में जब पुलिस और सोशल मीडिया सेल ने जांच की, तो पता चला की पोस्ट करने वाला कोई और नहीं, बल्कि एक सरकारी कर्मचारी है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

पुलिस ने अपनी ओर से जारी बयान में बताया कि सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री के खिलाफ अपनी फेसबुक आईडी से अभद्र टिप्पणी करने वाले अभियुक्त निजामुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने बताया कि आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है. बता दें कि फिलहाल निजामुद्दीन को जेल भेज दिया गया है.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT