window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

UP Weather Update : प्रचंड गर्मी के बीच जानिए यूपी में कब और किधर से एंट्री करेगा मॉनसून

यूपी तक

ADVERTISEMENT

Photographer Name : MUNEESH TARSEM
up weather update
social share
google news

UP Weather Update: उत्तर प्रदेश में करीब एक हफ्ते से चिलचिलाती गर्मी और हीटवेव ने लोगों के होश उड़ा रखे हैं. कूलर काम नहीं कर रहे, AC भी दिन रात चल रहे हैं तब कहीं जाकर राहत मिल रही है. इस बीच नोएडा के लोगों को लगातार बिजली कटौती का भी सामना करना पड़ रहा है. कुल मिलाकर गर्मी ने लोगों की रातों की नींद उड़ा रखी है. अब यूपी के लोगों को शिद्दत से मॉनसून का इंतजार है. राहत की बात यह है कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD)  ने मॉनसून को लेकर लेटेस्ट अपडेट जारी कर दिया है. आइए आपको पहले यूपी में मौसम का हाल और इससे जुड़े ताजा अनुमान के बारे में बताते हैं. 

गाजियाबाद में हीटवेव को लेकर रेड अलर्ट जारी 

27 मई यानी आज के मौसम की बात करें तो पूरे यूपी में गाजियाबाद में हीटवेव को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है. नोएडा, बागपत, अलीगढ़, मथुरा, आगरा, मैनपुरी, एटा के अलावा बुंदलेखंड के जालौन, झांसी, महोबा और ललितपुर में ऑरेंज अलर्ट है. यहां हीटवेव के साथ रात भी गर्म रहने के अनुमान हैं. 

पूर्वांचल समेत यूपी के बाकी हिस्सों में येलो अलर्ट

पूर्व यूपी में गाजीपुर, बलिया, वाराणसी, चंदौली, जौनपुर, सोनभद्र, मिर्जापुर, प्रयागराज, गोरखपुर, संतकबीरनगर, देवरिया, महराजगंज जैसे जिलों में येलो अलर्ट है. यहां रात का मौसम काफी गर्म रहने वाला है. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

28 और 29 मई को इन जिलों में हीटवेव को लेकर रेड अलर्ट

यूपी में गर्मी का सितम और गहराता ही नजर आ रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक 28 और 29 मई को प्रदेश के कई जिलों में हीटवेव को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है. इनमें गाजियाबाद के अलावा गौतमबुद्ध नगर, अलीगढ़, मथुरा, महामायानगर, आगरा, फिरोजाबाद, इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर, महोबा, झांसी, ललितपुर शामिल हैं. 

यूपी में कब और किधर से एंट्री करेगा मॉनसून? 

अब लोगों और खासकर यूपी के किसानों को मॉनसून से ही राहत मिलने की उम्मीद है. लोगों को इंतजार है कि आखिर मॉनसूनी फुहारें कब उनके तन-मन को भिगोएंगी. इसको लेकर मौसम विभाग ने बड़ा अपडेट जारी किया है. मौसम प्रभारी मोहम्मद दानिश ने बताया है कि केरल में मॉनसून 30 मई तक दस्तक दे सकता है. केरल से ही मॉनसून की शुरुआत होती है. असल में यूपी में दक्षिण पश्चिमी मॉनूसन की वजह से बारिश होती है. आइए आपको पहले बताते हैं कि दक्षिण पश्चिमी मॉनसून यानी South West Monsoon आखिर होता क्या है. 

ADVERTISEMENT

दक्षिण पश्चिमी मानसून, भारत और दक्षिण एशिया के लिए जीवनदायिनी हवाओं के रूप में समझा जाता है. इन्हीं हवाओं की वजह से जून से सितंबर तक भारत में बारिश का मौसम देखने को मिलता है. ये हवाएं मुख्य रूप से हिंद महासागर से उठती हैं. इन मानसूनी हवाओं का निर्माण, भूमध्य रेखा के समीप, गर्म समुद्र के पानी के वाष्पीकरण से होता है. ये हवाएं, नम हवा के रूप में, भारत की ओर बहती हैं. पहाड़ों से इनके टकराने के बाद ही बारिश होती है. भारत में कृषि, जल संसाधन और अर्थव्यवस्था के लिए मॉनसून बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. मॉनसून की बारिश से धान, गेहूं, दलहन, तिलहन और कपास जैसी मुख्य फसलों की पैदावार होती है. 

मॉनसून का अध्ययन और पूर्वानुमान, भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) द्वारा किया जाता है. 

ADVERTISEMENT

दक्षिण पश्चिमी मानसून के कुछ महत्वपूर्ण पहलू:

- आगमन: जून के पहले सप्ताह में केरल में आगमन.
- प्रस्थान: सितंबर के अंत में.
- वितरण: पूरे भारत में, क्षेत्रीय भिन्नता के साथ.
- महत्व: कृषि, जल संसाधन, और अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण.
- अध्ययन और पूर्वानुमान: IMD द्वारा.

इस नक्शे से समझिए यूपी में कब और कहां एंट्री करने वाला है मॉनसून

जैसा कि आप यहां ऊपर दिए गए साउथ वेस्थ मॉनसून के नक्शे को देख रहे हैं. इसमें अगर आप 20 June वाला लाल कर्व देखें तो ये पूर्वी यूपी को छूता हुआ गुजर रहा है. यानी 20 जून के आसपास यूपी के पूर्वी हिस्से में मॉनूसन प्रवेश करेगा. यानी आप कह सकते हैं कि मॉनसूनी बारिश 20 जून के आसपास देखने को मिलेगी. हालांकि इससे पहले यूपी के अलग-अलग हिस्सों में छिटपुट बारिश हो सकती है. 

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT