लखीमपुर खीरी हिंसा: ‘गुंडों ने किसानों को रौंदकर मारा’? संजय सिंह ने ट्वीट किया वीडियो

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में एक नया ट्विस्ट सामने आया है. आम आदमी पार्टी (AAP) के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने एक वीडियो ट्वीट किया है. संजय सिंह ने दावा किया है कि ये वीडियो ठीक उसी जगह का है, जहां किसानों को गाड़ी से रौंदा गया. हालांकि यूपी तक इस वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं करता है. आपको बता दें कि 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में 8 लोगों की मौत हुई है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा पर आरोप है कि उनके काफिले ने आंदोलनकारी किसानों को रौंद दिया. हालांकि मंत्री और उनके बेटे, दोनों ने ही आरोपों को सिरे से नकार दिया है. उनका दावा है कि आशीष घटनास्थल पर थे ही नहीं.

संजय सिंह ने जो वीडियो ट्वीट किया उसमें क्या है?

संजय सिंह ने कथित तौर पर लखीमपुर खीरी से जुड़े दो वीडियो ट्वीट किए हैं. पहला वीडियो 27 सेकंड का है. इस वीडियो में साफ दिख रहा है कि आगे चल रहे लोगों के जत्थे को पीछे से आ रही गाड़ी रौंदते हुए चली जा रही है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

संजय सिंह ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा है,

“क्या इसके बाद भी कोई प्रमाण चाहिये? देखिये सत्ता के अहंकार में चूर गुंडे ने किसानो को अपनी गाड़ी के नीचे कैसे रौंदकर मार दिया कुछ चैनल ज्ञान दे रहे थे मंत्री का बेटा जान बचाने के लिए भागा.”

संजय सिंह, राज्यसभा सांसद

ADVERTISEMENT

हालांकि संजय सिंह द्वारा ट्वीट किए गए वीडियो की सत्यता की पुष्टि यूपी तक नहीं करता है. संजय सिंह के इस ट्वीट का आर्काइव लिंक यहां क्लिक कर देखा जा सकता है.

दूसरे वीडियो में क्या है?

ADVERTISEMENT

संजय सिंह ने जो दूसरा वीडियो ट्वीट किया है वो 17 सेकंड का है. इस वीडियो में तेज रफ्तार से गुजरती गाड़ियों के काफिले को देखा जा सकता है. सड़क पर ‘आंदोलनकारी’ खड़े दिख रहे हैं, जो काफिले को काला झंडा दिखाते नजर आ रहे हैं.

इस वीडियो के साथ संजय सिंह ने लिखा है, “किसानो की हत्यारी गाड़ियों की रफ़्तार देखिये आदित्यनाथ जी आपके राज में किसानो की निर्मम हत्त्या करने वाले गिरफ़्तार कब होंगे? पिछले 30 घंटे से आपने मुझे मेरे साथियों के साथ पुलिस हिरासत में रखा है. लेकिन हत्यारे खुलेआम घूम रहे हैं. क्या यही आपके न्याय का सिद्धांत है?”

हालांकि यूपी तक इस दूसरे वायरल वीडियो की प्रामाणिकता की भी पुष्टि नहीं करता है. AAP सांसद ने दावा किया है कि लखीमपुर खीरी जाने के क्रम में प्रदेश सरकार ने उन्हें 30 घंटे से हिरासत में ले रखा है.

प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट किया वायरल वीडियो

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी कथित तौर पर लखीमपुर खीरी की हिंसा से जुड़ा यह वायरल वीडियो ट्वीट किया है. प्रियंका गांधी ने वीडियो ट्वीट कर लिखा है कि, “@narendramodi जी आपकी सरकार ने बग़ैर किसी ऑर्डर और FIR के मुझे पिछले 28 घंटे से हिरासत में रखा है. अन्नदाता को कुचल देने वाला ये व्यक्ति अब तक गिरफ्तार नहीं हुआ क्यों?”

प्रियंका गांधी के इस ट्वीट के आर्काइव लिंक को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है.

क्या है लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा का अबतक का अपडेट?

3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में अबतक 8 मौतें हुई हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक हिंसा में 4 किसान, 3 बीजेपी कार्यकर्ता और एक पत्रकार की मौत हुई है. इन सभी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है.

प्रशासन का दावा है कि प्रदर्शनकारी किसान संगठन और पीड़ित किसान परिवारों के बीच कुछ शर्तों पर समझौता हुआ है. बताया गया है कि मारे गए 4 किसानों के परिवारों को सरकार 45 लाख रुपये और एक सरकारी नौकरी देगी. घायलों को 10 लाख रुपये दिए जाएंगे. किसानों की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त जज मामले की जांच करेंगे.

लखीमपुर खीरी हिंसा: सभी 8 मृतकों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई, जानें क्या बात आई सामने

follow whatsapp

ADVERTISEMENT