बहराइच: नशे में धुत महिला अधिकारी का वीडियो वायरल, किया हंगामा, ठेलकर गाड़ी पर बिठाना पड़ा

बहराइच: नशे में धुत महिला अधिकारी का वीडियो वायरल, किया हंगामा, ठेलकर गाड़ी पर बिठाना पड़ा
तस्वीर: राम बरन चौधरी, यूपी तक.

शराब के नशे में धुत एक महिला अधिकारी का वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में दिख रहीं महिला देवीपाटन मंडल गोंडा की डिप्टी लेबर कमिश्नर रचना केसरवानी हैं. शराब के नशे में डिप्टी लेबर कमिश्नर रचना केसरवानी ने काफी हंगामा काटा है. बताया जा रहा है कि अफसर रचना केसरवानी की गाड़ी डिवाइडर से टकराई जिसके बाद उन्होंने हंगामा किया.

अहम बिंदु

पुलिस ने डिप्टी लेबर कमिश्नर रचना केसरवानी का मेडिकल भी कराया है, जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई है. वायरल वीडियो 27 अप्रैल का बताया जा रहा है. यह बहराइच के जरवल थाना क्षेत्र के कस्बा चौकी इलाके का मामला है. बताया जा रहा है कि लखनऊ से गोंडा जाते वक्त रास्ते मे जरवल थाना क्षेत्र में दुर्घटना हुई थी.

ऐसा भी कहा जा रहा है कि डिप्टी लेबर कमिश्नर रचना केसरवानी पहले भी अपने ऑफिस में कई बार हंगामा काट चुकी हैं.

देवीपाटन मंडल की अधिकारी का कथित तौर पर नशे में बहराइच पुलिस को ‘धौंस’ दे रही हैं कि 'मंडल स्तरीय अधिकारी हूं, जिला स्तरीय नहीं, कमिश्नर से बात करूंगी!'स्थानीय पुलिस ने मामले को वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के माध्यम से श्रम विभाग को संदर्भित कर दिया है.

वीडियो में महिला सिपाही नशे में धुत अधिकारी को गाड़ी की पिछली सीट पर बिठाने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन वो बार-बार बाहर निकल कर ड्राइविंग सीट पर बैठने का प्रयास करती देखी जा रही हैं. महिला अपने को मंडल स्तर का अधिकारी बताकर कमिश्नर से बात करने की भी धौंस देती वीडियो में दिख रही हैं. वायरल वीडियो के अंत तक महिला सिपाही उनको गाड़ी में बिठा नहीं सकी थीं.

इस संबंध में रविवार को जरवल रोड थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह ने बताया कि बीती 27 अप्रैल को उक्त महिला अधिकारी स्वयं कार चलाकर लखनऊ से अपने कार्यालय गोंडा जा रही थीं. उन्होंने बताया कि रास्ता भटक कर महिला की कार बहराइच की तरफ घूम गयी और बहराइच मार्ग पर एक डिवाइडर से जा टकराई.

सिंह ने बताया कि डायल 112 व थाना पुलिस टक्कर की सूचना मिलने पर महिला पुलिसकर्मी जब घटनास्थल पर पहुंची तो देखा कि नशे में धुत उक्त महिला स्वयं गाड़ी चलाना चाह रही थीं. उन्होंने बताया कि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें मना किया लेकिन वह स्वयं को मंडल स्तर का वरिष्ठ अधिकारी होने की ‘धौंस’ देकर स्वयं गाड़ी चलाने की जिद पर अड़ी रहीं.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पूछे जाने पर नशे में धुत महिला ने अपना नाम रचना केसरवानी, उप श्रमायुक्त देवीपाटन मंडल बताया. एसएचओ ने बताया कि काबू में नहीं आने के चलते महिला अधिकारी के पति को बुलाकर महिला पुलिस बल, पुलिस अधिकारियों व पति की मौजूदगी में उक्त महिला अधिकारी की चिकित्सा जांच कराई गई और उन्हें उनके पति के हवाले कर दिया गया.

उन्होंने बताया कि मामला उच्चाधिकारी का था और प्रोटोकॉल के तहत हमें उनकी जांच व उनके खिलाफ कार्यवाही हेतु अधिकार नहीं प्राप्त है, इसलिए पूरा मामला वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के माध्यम से श्रम विभाग को संदर्भित किया गया है. एक पुलिस अधिकारी ने बताया है कि महिला अधिकारी की चिकित्सा जांच में शराब पीने की पुष्टी हुई है. उन्होंने बताया कि चिकित्सा जांच रिपोर्ट वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के माध्यम से विभागीय उच्चाधिकारियों को भेजी गई है.

भाषा के इनपुट्स के साथ

संबंधित खबरें

No stories found.