सहारनपुर में उपद्रवियों पर NSA ना लगाए जाने की मांग को लेकर SSP से मिले इमरान मसूद

सहारनपुर में उपद्रवियों पर NSA ना लगाए जाने की मांग को लेकर SSP से मिले इमरान मसूद
इमरान मसूद. फोटो: अनिल भारद्वाज

सहारनपुर में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा मामले में उपद्रवियों पर NSA ना लगाए जाने की मांग को लेकर सपा नेता इमरान मसूद ने SSP से मुलाकात की है. उन्होंने कहा कि गाजरों के चोर को जूती की सजा मिलती है फांसी की नहीं, तो जिसका जितना जुर्म है उसको उतनी सजा मिलनी चाहिए.

इमरान ने कहा कि जुमे की नमाज़ के बाद प्रदर्शन किसी भी सूरत में जायज़ नहीं हो सकता. इमरान ने बुल्डोज़र की कार्रवाई को ग़लत ठहराते हुए कहा कि कल को मेरे मकान पर भी चल सकता है बुल्डोजर, लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं.

इमरान मसूद ने कहा कि कुछ हमारी भी ज़िम्मेदारी है. हम चाहे उलेमा हों चाहे पोलिटिकल लोग हों हम अपनी ज़िम्मेदारी से नहीं भाग सकते.

उन्होंने कहा कि जुमा की नमाज़ के बाद यह प्रदर्शन किसी भी सूरत में जायज़ नहीं है. अगर हमें कोई प्रदर्शन करना है तो उसके लिए डेट और टाइम रखने के बाद प्रदर्शन करते. लेकिन मस्जिद से निकलकर प्रदर्शन होगा तो यह किसी भी सूरत में जायज़ नहीं है.

बुल्डोज़र की कार्रवाई पर इमरान मसूद ने कहा कि यह जो बुलडोज़र चल रहा है यह पूरे न्याय सिस्टम को दूषित करने का काम कर रहा है. आप पूरे सिस्टम को पूरी प्रक्रिया को ध्वस्त करने का काम कर रहे हैं. आपने प्रयागराज में मकान ज़मींदोज़ कर दिया. चलो आपने यहां छोटा सा छज्जा ही गिराया, लेकिन वहां तो पूरा मकान ज़मींदोज़ कर दिया जावेद पम्प का, मतलब बोलने के अधिकार के ऊपर पाबंदी, हमें बोलने की आज़ादी भी नहीं होगी.

इमरान मसूद ने कहा कि अगर हेट स्पीच है तो आप जेल भेजिए. CRPC, IPC, किस लिए है इसी चीज़ के लिए है ना. आप जेल भेजो. कल को मेरे घर पर भी चल सकता है बुल्डोज़र. मैं बोल रहा हूं मेरे घर पर भी चल सकता है और हम लोग डरने वाले नहीं हैं.

इमरान मसूद.
सहारनपुर: जुमे की नमाज के बाद हिंसा में शामिल दो उपद्रवियों के घर पर चला बुल्डोजर

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in