सीएम योगी आदित्यनाथ के ‘अब्बा जान’ वाले बयान को नसीरुद्दीन शाह ने बताया नफरत भरा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

मशहूर एक्टर नसीरुद्दीन शाह ने सीएम योगी आदित्यनाथ के ‘अब्बा जान’ वाले बयान को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी है. इंडिया टुडे के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई के साथ एक बातचीत में नसीरुद्दीन शाह ने यूपी सीएम के इस बयान का जिक्र करते हुए कहा कि यह उनके नफरत भरे बयानों का सिलसिला है.

पिछले दिनों एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा था कि 2017 से पहले अब्बा जान कहने वाले राशन हजम कर जाते थे. असल में सीएम योगी ने पहली बार ‘अब्बा जान’ शब्दावली का इस्तेमाल आजतक के एक कार्यक्रम में पूर्व सीएम अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम यादव के संदर्भ में किया था. तबसे वह कई मौकों पर अपने संबोधनों में अब्बा जान कहते नजर आए हैं.

इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में नसीरुद्दीन शाह ने सीएम योगी के अब्बाजान बयान का जिक्र करते हुए कहा कि वैसे तो यह प्रतिक्रिया देने लायक बयान भी नहीं है. उन्होंने कहा, ‘सारे मुस्लिम अपने पिता को अब्बा जान ही नहीं कहते. मैं अपने पिता को बाबा कहता हूं. मेरी हिंदू पत्नी भी बाबा कहती है. लेकिन वह (योगी) जैसे हैं, आपके सामने है. उनपर प्रतिक्रिया देने का कोई मतलब नहीं है. सच तो यह है कि अब्बा जान का यह बयान उन नफरत भरे बयानों का सिलसिला है, जो वह हमेशा से देते रहे हैं.’

‘अधिक से अधिक हिंदुओं को दक्षिणपंथी कट्टरता के खिलाफ बोलना चाहिए’

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

नसीरुद्दीन शाह ने पिछले दिनों ऐसे मुस्लिमों की आलोचना की थी, जो अफगानिस्तान में तालिबान की जीत का जश्न मना रहे थे. तालिबान पर उनके स्टैंड की तारीफ करते हुए दक्षिणपंथी हिंदू संगठनों की तरफ से प्रतिक्रिया आई थी कि अधिक से अधिक मुस्लिमों को तालिबान के खिलाफ बोलना चाहिए. इंटरव्यू में इसपर कमेंट करते हुए नसीरुद्दीन शाह ने कहा, ‘तब मैं कहना चाहूंगा कि अधिक से अधिक हिंदुओं को आगे आकर भारत में बढ़ती दक्षिणपंथी कट्टरता के खिलाफ बोलना चाहिए.’

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT