सरकारी अस्पतालों में सही व्यवस्था के अभाव में हो रहीं मौतें: बुखार के कहर पर मायावती

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद समेत कई जिलों मे डेंगू और दूसरे तरह के बुखार के कहर के बीच सरकार से इस ओर ध्यान देने की अपील की है. इसके साथ ही उन्होंने सरकारी अस्पतालों में ‘उचित व्यवस्था के अभाव’ का जिक्र भी किया है.

मायावती ने 9 सितंबर को ट्वीट कर कहा है, ”यूपी में कोरोना महामारी के बीच डेंगू और अन्य रहस्यमयी बुखार आदि का प्रकोप भी यहां बड़ी तेजी से लगभग पूरे प्रदेश को अब अपने चपेट में ले रहा है लेकिन सरकारी अस्पतालों में उचित व्यवस्था के अभाव में इनके मरीजों की काफी मौतें भी हो रही हैं, जो अति-चिंतनीय (है). सरकार इस ओर जरूर ध्यान दे.”

इससे पहले, यूपी में बुखार के प्रकोप को लेकर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव भी सरकार को निशाने पर लेते हुए दिखे हैं.

इस मामले पर हाल ही में प्रियंका गांधी ने कहा था, ”क्या यूपी सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान सरकार की लापरवाही के चलते हुई तबाही से कोई सबक नहीं लिया?”

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि सरकार को युद्धस्तर पर प्रभावित लोगों के इलाज के लिए हरसंभव साधन का इस्तेमाल करना चाहिए और बीमारी को रोकने पर तुरंत ध्यान केंद्रित करना चाहिए.

वहीं अखिलेश यादव यादव कह चुके हैं कि प्रचार में लीन प्रदेश सरकार नींद से जागे और खतरनाक जानलेवा बुखार से प्रभावित होने वाले बच्चों और बड़ों के लिए स्तरीय चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करे.

बता दें कि फिरोजाबाद जिले में पिछले कुछ दिनों में डेंगू और दूसरे तरह के बुखार से 50 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. इसके अलावा मथुरा, आगरा, एटा समेत दूसरे कई जिलों में भी बुखार कहर बरपा रहा है.

ADVERTISEMENT

दुकाननुमा ‘अस्पताल’ में चल रहा डेंगू का इलाज! देखिए UP में स्वास्थ्य सुविधाओं की हकीकत

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT