UP में बसपा के 10 में से 3 सांसद ढूंढ रहे अपना 'नया घर', जानिए कौन कहां जा सकता है?

कुमार अभिषेक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

BSP News: लोकसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. सभी बड़े सियासी दलों की नजरें 80 लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश पर टिकी हुई हैं. वर्तमान में यहां सबसे अधिक सांसद सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के हैं. उसके बाद दूसरे नंबर पर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 10 सांसद हैं. बता दें कि बसपा खेमे से एक ऐसी जानकारी निकल कर आई है, जो पार्टी प्रमुख मायावती की टेंशन बढ़ा सकती है. खबर मिली है कि बसपा के 10 में से 3 सांसद अपना नया ठिकाना ढूंढ रहे हैं.वहीं, दो तो अपना नया ठिकाना ढूंढ भी चुके हैं.

आपको बता दें कि अमरोहा सांसद दानिश अली पहले ही कांग्रेस का दामन थाम चुके हैं. जबकि गाजीपुर सांसद अफजाल अंसारी के नाम का ऐलान समाजवादी पार्टी गाजीपुर से कर चुकी है. यानी अब बसपा के पास आठ सांसद बचे हैं.

आजमगढ़ सांसद संगीता आजाद प्रधानमंत्री से मिल चुकी हैं और भाजपा में शामिल होने को लेकर के कयास जारी हैं. ऐसे ही कयास बिजनौर सांसद मलूक नागर के आरएलडी के साथ जाने को लेकर लग रहे हैं. हाल ही में वह जयंत चौधरी के घर देखे गए थे. वहीं,  अंबेडकर नगर से ब्राह्मण चेहरे रितेश पांडे की भी भाजपा में जाने की चर्चा तेज है. बीते दिनों रितेश पांडेय ने अन्य सांसदों के साथ पीएम मोदी संग लांच किया था.

 

 

बताते चलें कि लेकिन अभी तक दो लोगों (दानिश अली और अफजाल अंसारी) को छोड़कर आठ लोग बसपा से बाहर नहीं आए हैं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

2019 के चुनाव में बसपा को मिली थीं 10 सीटें, इस बार मिलेंगी कितनी?

 

बता दें कि बीते दिनों देश का मिजाज जानने के लिए इंडिया टुडे (India Today) और C वोटर्स के मूड ऑफ द नेशन (Mood of the Nation Poll) सर्वे के आंकड़े सामने आए. सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक, अगर आज उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव हुए तो एनडीए यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से 72 सीटों पर जीत सकता है. दूसरी तरफ विपक्षी 'INDIA' को लोकसभा चुनाव में भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है. विपक्षी गठबंधन को 8 सीटे मिलती हुई दिखाई दे रही हैं. इनमें कांग्रेस को 1 सीट तो वहीं सपा+ को 7 सीटे मिलने की उम्मीद है. 

 

 

मायावती की पार्टी का नहीं खुलेगा खाता?

 सर्वे में सबसे बड़ा झटका मायावती की बहुजन समाज पार्टी को लगा है. सर्वे के अनुसार, बसपा का यूपी में खाता भी नहीं खुलने जा रहा है. सर्वे में बसपा को शून्य (0) सीटें मिलती नजर आ रही हैं.   बता दें कि 2024 में होने लोकसभा चुनाव में बसपा को 8.4 प्रतिशत वोट मिलने का अनुमान है, जबकि 2019 के लोकसभा चुनाव में बीएसपी को 19.43 प्रतिशत वोट मिले थे.  
 

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT