window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

खुलकर आमने-सामने आए संजीव बालियान-संगीत सोम, अब अमित शाह को लिखे इस लेटर ने मचाया सियासी भूचाल

यूपी तक

ADVERTISEMENT

Sanjeev Balyan, Sangeet Som
Sanjeev Balyan, Sangeet Som
social share
google news

UP Politics: उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनावों में मिली शिकस्त के बाद भाजपा में अंदरखाने घमासान मचा हुआ है. भाजपा नेताओं की आपसी कलह अब सामने आने लगी है. ताजा मामला पूर्व केंद्रीय मंत्री और मुजफ्फरनगर से हार का सामना करने वाले संजीव बालियान और भाजपा के फायरब्रांड नेता पूर्व विधायक संगीत सोम से जुड़ा हुआ है. दोनों के बीच पिछले कुछ समय से जो विवाद जारी है, वह अभी तक थमने का नाम नहीं ले रहा है. दरअसल लोकसभा चुनाव में मिली हार का ठीकरा संजीव बालियान संगीत सोम पर फोड़ते हुए नजर आ रहे हैं तो वही संगीत सोम भी इशारों ही इशारों में संजीव बालियान को घेरते हुए नजर आ रहे हैं. पश्चिम यूपी में भाजपा के इन दो नेताओं के बीच आपसी लड़ाई अब खुलकर सामने आ गई है.

इसी बीच संजीव बालियान ने अब लेटर बम फोड़ दिया है. दरअसल संजीव बालियान ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र लिखा है, जिसने पश्चिम यूपी की सियासत में भूचाल ला दिया है. दरअसल एक लेटर पेड संगीत सोम के नाम से सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. इसमें संजीव बालियान पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे. हालांकि संगीत सोम की तरफ से ये साफ नहीं किया गया था कि ये वायरल लेटर उनकी तरफ से ही जारी किया गया है. मगर अब इस वायरल लेटर को लेकर संजीव बालियान ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख दिया है. संजीव बालियान ने अमित शाह को लिखे लेटर में संगीत सोम द्वारा उनके ऊपर लगाए गए आरोपों की सीबीआई जांच करवाने की बात की है.

संजीव बालियान ने अमित शाह को लिखा पत्र

पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखे पत्र में कहा है, हाल ही में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक पूर्व विधायक के लेटर हैड पर एक पत्र पत्रकारों को बांटा गया, जिसमें मुझ पर भ्रष्टाचार के निराधार आरोप लगाए गए हैं. मैं उन लगाए गए सभी आरोपों का खंडन करता हूं. मैं मोदी सरकार में मंत्री रहा हूं. इसलिए मुझ पर लगाए गए सारे आरोपों की निष्पक्ष जांच कराना मेरा दायित्व है. मै अनुरोध करता हूं कि मेरे ऊपर लगाए गए सारे आरोपों की सी.बी.आई से या अन्य किसी उच्च स्तरीय जांच एजेंसी से जांच कराई जाए.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

संगीत सोम और संजीव बालियान आए आमने-सामने

लोकसभा चुनाव में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद से ही पश्चिमी यूपी के बीजेपी के दो बड़े नेता संजीव बालियान और संगीत सोम में जुबानी जंग जारी है. लोकसभा चुनाव से पहले ही इन दोनों नेताओं के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा था. चुनावों के बाद पूर्व विधायक संगीत सोम का कथित लेटर हेड पर एक पत्र वायरल हो गया. इसमें संजीव बालियान पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए गए थे. 

इस वायरल हो रहे लेटर में संजीव बालियान पर विकास कार्यों के नाम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे. कहा गया था कि उन्होंने हजारों करोड़ों की संपत्ति भी अर्जित कर ली है. वायरल लेटर में जांच की मांग भी की गई थी. जब इस लेटर को लेकर संगीत सोम से पूछा गया था तो उन्होंने साफ कहा था कि ये उनका लेटर नहीं है. किसी ने साजिश के तहत उनके जैसा लेटर हैड बनाकर ये लेटर जारी किया है. फिलहाल अब संजीव बालियान ने इस लेटर को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख दिया है. ऐसे में एक बार फिर संगीत सोम और संजीव बालियान आमने-सामने आ गए हैं.

ADVERTISEMENT

(ये खबर हमारे साथ इंटर्न कर रहे अमित पांडेय ने लिखी है)

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT