लखनऊ में SP की महापंचायत, इन 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल कराने की है मांग

सांकेतिक तस्वीर.

सांकेतिक तस्वीर.

फोटो: मनीष अग्निहोत्री/ इंडिया टुडे

UP Political News: समाजवादी पार्टी आज यानी शनिवार को 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल कराने के लिए लखनऊ में महापंचायत का आयोजन किया. इस महापंचायत में 17- कश्यप, कहार, केवट, निषाद, मल्लाह, कुम्हार, प्रजापति, धीवर, बिंद, भर, राजभर, ढीमर, बाथम, तुरहा, गोडिया, माझी और मछुआ जातियों को अनुसूचित जाति में परिभाषित करने मांग की गई.

इस सम्मेलन को लेकर समाजवादी पार्टी के पूर्व एमएलसी और पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राजपाल कश्यप ने यूपी तक से बातचीत में साफ कहा कि बीजेपी सरकार ने इन जातियों के साथ धोखा किया है.

उन्होंने कहा,

"सपा प्रमुख अखिलेश यादव के द्वारा जो प्रस्ताव इन जातियों के लिए दिया गया, उसको लेकर बीजेपी सरकार ने हाईकोर्ट में पैरवी ही नहीं की, जिसकी वजह से हाईकोर्ट ने खारिज किया है. अब समाजवादी पार्टी इन सभी जातियों को एकजुट कर इन के हक के लिए लड़ाई लड़ेगी."

राजपाल कश्यप

कश्यप ने कहा कि '19 सितंबर से शुरू होने जा रहे मॉनसून सत्र में अगर सरकार इन जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल कराने को लेकर कोई कदम नहीं उठाती है तो प्रदेश में बड़ा आंदोलन होगा.आगामी चुनाव में भी इसका खामियाजा बीजेपी को भुगतना पड़ेगा.'

राजपाल कश्यप ने आरोप लगाते हुए कहा, "संजय निषाद ओमप्रकाश राजभर सभी ने इन जातियों के वोट बैंक की राजनीति की और धोखा दिया. उनके हक की लड़ाई हमेशा समाजवादियों ने लड़ी है और आगे भी लड़ती रहेगी.

<div class="paragraphs"><p>सांकेतिक तस्वीर.</p></div>
मिलिए लखनऊ की कमिश्नर रोशन जैकब से, जिन्होंने किया कुछ ऐसा काम कि हो रही खूब तारीफ

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in