राष्ट्रपति पर अधीर रंजन के विवादित बयान पर मायावती ने कांग्रेस को खूब सुनाया, कही ये बात

बीएसपी सुप्रीमो मायावती.
बीएसपी सुप्रीमो मायावती.(तस्वीर: इंडिया टुडे)

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को ‘‘राष्ट्रपत्नी’’ कहकर संबोधित किए जाने से राजनीति तेज हो गई है. सत्तापक्ष बीजेपी के साथ-साथ अब उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने भी अधीर रंजन के बयान पर अपनी नाराजगी जाहिर की है.

बीएसपी चीफ ने ट्वीट कर कहा,

"भारत के सर्वोच्च राष्ट्रपति पद पर आदिवासी समाज की पहली महिला के रूप में द्रौपदी मुर्मू जी का शानदार निर्वाचन बहुत लोगों को पसंद नहीं. इसी क्रम में लोकसभा में कांग्रेस के नेता श्री अधीर रंजन चौधरी द्वारा उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करना अति-दुःखद, शर्मनाक व अति-निन्दनीय."

मायावती

मायावती ने आगे कहा, "अर्थात इनके द्वारा माननीया राष्ट्रपति जी को टीवी पर ’राष्ट्रपत्नी’ कहने का विरोध करते हुए संसद की कार्यवाही भी आज बाधित हुई है. उचित होगा कि कांग्रेस पार्टी भी इसके लिए देश से माफी मांगे तथा अपनी जातिवादी मानसिकता का परित्याग करे."

ज्ञात हो कि चौधरी ने बुधवार को एक निजी चैनल के कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति मुर्मू को ‘‘राष्ट्रपत्नी’’ कहकर संबोधित किया था.

अधीर रंजन ने पहले ही माफी मांग ली है: सोनिया गांधी

अहम बिंदु

संसद परिसर में गुरुवार को जब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछा गया कि क्या वह चौधरी से माफी मांगने के लिए कहेंगी तो उन्होंने कहा, ‘‘वह पहले ही माफी मांग चुके हैं.’’

वहीं, चौधरी ने राष्ट्रपति के बारे में की गई अपनी एक टिप्पणी पर सफाई देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि उनके मुंह से चूकवश एक शब्द निकल गया और भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए वह इसे उठा रही है.

बीजेपी ने रंजन के खिलाफ खोला मोर्चा

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्र की पत्नी के रूप में संबोधित किया जाना भारत के हर मूल्य और संस्कार के विरुद्ध है. यह जानते हुए कि यह संबोधन उस सर्वोच्च...सर्वोच्च संवैधानिक पद की गरिमा पर आघात करता है, तब भी कांग्रेस के एक पुरुष नेता ने यह घृणित कार्य किया है.’’

स्मृति ने कहा, ‘‘मुर्मू के एक ऐतिहासिक चुनाव जीतने के बाद, कांग्रेस आज भी इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही है कि एक आदिवासी, गरीब महिला देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद को सुशोभित कर रही है.’’

बीएसपी सुप्रीमो मायावती.
मायावती के भतीजे का राजभर पर तंज, बोले- 'स्वार्थी लोगों से सावधान रहने की जरूरत है'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in